PFI सदस्य मुफ़्ती शहजाद अरेस्ट, CAA विरोधी हिंसा में थी तलाश

Jun 06 2020 10:32 PM
PFI सदस्य मुफ़्ती शहजाद अरेस्ट, CAA विरोधी हिंसा में थी तलाश

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में नोएडा की ऐंटी टेररिस्‍ट स्‍क्‍वॉड (ATS) ने मेरठ जिले से पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के एक मेंबर मुफ्ती शहजाद को गिरफ्तार कर लिया है। यह गिरफ्तारी दिसंबर 2019 में मेरठ में हुई हिंसा के संबंध में की गई है। यह हिंसा नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिकता पंजी (NRC) के विरोध प्रदर्शनों के दौरान हुई थी। फिलहाल पुलिस शहजाद से पूछताछ कर रही है। 

बताया जा रहा है कि आरोपी शहजाद मूल रूप से गाजियाबाद के अंतर्गत आने वाले नेकपुर मुरादनगर का रहने वाला है। शुरुआती दिनों में उसने मौलवी के तौर पर काम किया। इसके बाद वर्ष 2019 में उसने मेरठ में पीएफआई का दफ्तर खोला था। मेरठ के अपने इस दफ्तर में यह PFI के लिए सदस्‍यों को भर्ती करने का काम करता था। गाजियाबाद के मुरादनगर और मेरठ में नौचंदी थाने में इसके खिलाफ केस दर्ज थे।

शहजाद पर CAA और NRC विरोध प्रदर्शनों के दौरान भड़काऊ पोस्‍टर लगाने का इल्जाम है। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार उसी समय से PFI पर प्रतिबंध लगाने की बात कहती आई है। उत्तर प्रदेश सरकार में डेप्‍युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का कहना था कि पीएफआई में प्रतिबंधित संगठन सिमी के ही ज्यादातर सदस्‍य शामिल हैं। 

राजाजी नेशनल पार्क से बेमुंडा के जंगल की पहाड़ियों तक पहुंचे गजराज

कम दाम में सोना खरीदने का मौका, जानें क्या है स्कीम

रघुराम राजन का बड़ा बयान, कहा- रहत पैकेज का ऐलान कर बैठ नहीं सकती सरकार