UP उपचुनाव : विधायक से सांसद बने नेताओं को इस तरह मांगना होगा प्रत्याशी के लिए वोट

Sep 11 2019 02:01 PM
UP उपचुनाव : विधायक से सांसद बने नेताओं को इस तरह मांगना होगा प्रत्याशी के लिए वोट

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में 13 विधानसभा सीटों के उपचुनाव हेतु सत्ता दल भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) द्वारा एड़ी चोटी का जोर लगाया जा रहा है. हर सीट पर फतह के लिए पहले ही प्रभारी मंत्रियों की नियुक्ति कर चुकी भाजपा द्वारा अब उन सांसदों को पदयात्रा कर जनसंपर्क करने के लिए कहा है, जिनके विधानसभा से संसद पहुंचने के चलते सीटें खाली पड़ी हैं. सांसद बुधवार से ही विधानसभा क्षेत्रों में पदयात्रा निकाल कर घर-घर जनसंपर्क शुरू करेंगे.

यूपी में खाली सीटों की बात की जाए तो उत्तर प्रदेश में 11 सीटों पर विधायकों के सांसद बन जाने के चलते उपचुनाव होंगे. वहीं घोसी से बीजेपी विधायक फागू चौहान के बिहार का राज्यपाल बन जाने से एक सीट खाली हुई है और हमीरपुर से पार्टी के विधायक अशोक चंदेल को हत्या के मामले में सजा होने पर सदस्यता खत्म होने से हमीरपुर सीट पर भी उपचुनाव होंगे. 

विधानसभा संयोजक कर रहे कैंप...

राज्य की सभी 13 सीटों पर बीजेपी द्वारा पहले से ही विधानसभा संयोजक नियुक्त किए हुए है और ये संयोजक विधानसभा क्षेत्रों में कैंप कर रहे हैं. पार्टी द्वारा इन्हें चुनाव तक क्षेत्र में सक्रिय रहने के लिए कहा गया है. जबकि विधानसभा संयोजकों की बात की जाए तो गंगोह में जितेंद्र जांग्ल्यान, रामपुर में संजय पाठक, टूडंला में दीपक राजोरिया व रविंद्र सिंह, हमीरपुर में आशीष पालीवाल, लखनऊ कैंट में मानसिंह, जैदपुर में राम सिंह वर्मा, जलालपुर में मनोज मिश्रा व चंद्रिका प्रसाद बलहा बहराइच में योगेश प्रताप सिंह, प्रतापगढ़ सदर में राजकुमार पाल तथा घोसी विधानसभा सीट के लिए दीनबंधु राव को विधानसभा संयोजक घोषित किया है. 

 

अलगाववादी नेता यासिन मलिक जम्मू की टाडा अदालत में आज होंगे पेश, यह है मामला

अयोध्या मामलाः लाइव टेलीकास्ट की मांग वाली याचिका पर आज सुनवाई संभव

विस चुनाव से पहले महाराष्ट्र में घमासान, BJP का दामन थामेंगे कांग्रेस-NCP के नेता

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने जम्मू कश्मीर के सरपंचों से की यह अपील