फीस नहीं भरी, तो स्कूल वालों ने इतना प्रताड़ित किया कि 8वीं के छात्र ने कर ली ख़ुदकुशी !

फीस नहीं भरी, तो स्कूल वालों ने इतना प्रताड़ित किया कि 8वीं के छात्र ने कर ली ख़ुदकुशी !
Share:

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद के एक स्कूल में पढ़ने वाले 8वीं कक्षा के छात्र द्वारा ख़ुदकुशी किए जाने का मामला प्रकाश में आया है. आरोप है कि 15 वर्षीय प्रिंस 8वीं कक्षा में गाजियाबाद के हैप्पी मॉडल स्कूल में पढ़ता था. प्रिंस ने बीते कुछ महीनों से अपने स्कूल की फीस भी जमा नहीं की थी, जिसके कारण उसे स्कूल में लगातार प्रताड़ित किया जा रहा था. इससे तंग आकर प्रिंस ने ख़ुदकुशी कर ली. आरोप है कि फीस के लिए प्रिंस को निरंतर स्कूल में सबके सामने जलील किया जा रहा था. यही नहीं, सजा के नाम पर उसे कई घंटों तक हाथ खड़ा कर ग्राउंड में छोड़ दिया जा रहा था, जिससे आहत होकर प्रिंस ने ख़ुदकुशी कर ली. प्रिंस की मौत से उसके परिजनों का बुरा हाल है. 

परिजनों का आरोप है कि प्रिंस की मौत के लिए स्कूल जिम्मेदार है और वे उनके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की मांग करते हैं. वहीं, प्रिंस की मां ने मीडिया से बात करते हुए बताया है कि उनके बच्चे को स्कूल के शिक्षकों ने मारा. प्रिंस की मां ने बताया है कि उसने स्कूल प्रशासन को कुछ दिनों में फीस जमा करने का आश्वासन दिया था. उन्होंने कहा कि प्रति वर्ष वे पहले पैसे भर देते थे. इस बार पैसों की कमी थी, इसलिए फीस जमा नहीं हो पाई. उन्होंने स्कूल पर उनके बेटे को जान से मारने का इल्जाम लगाया. बेटे की मौत से आहत मां ने स्कूल पर करवाई किए जाने की मांग की है.

वहीं, अपने बेटे की मौत की खबर सुनने के बाद पिता हीरा लाल का बुरा हाल है. उन्होंने कहा कि प्रिंस ने उनसे फीस जमा नहीं होने की वजह से उसे स्कूल में डांट पड़ने की बात कही थी. हालांकि, उन्होंने प्रिंस से कहा था कि वह जल्द ही फीस भर देंगे. इतने में उसने शाम को फांसी लगा ली. उन्होंने बताया कि फीस जमा नहीं करने पर प्रिंस को हर दिन स्कूल में सबसे सामने खड़ा कर जलील किया जाता था, जिससे तंग आकर उसने ये खौफनाक कदम उठाया. उन्होंने कहा कि प्रिंस की मौत के लिए उसका स्कूल जिम्मेदार है और वह उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी करने कार्रवाई की मांग करते हैं. 

वहीं, पुलिस के अनुसार, स्कूल का कहना है कि प्रिंस और उसके दोस्त का किसी बात को लेकर विवाद हो गया था, जिस पर स्कूल प्रशासन ने दोनों ही बच्चों के माता-पिता को स्कूल बुलाया था. दूसरे छात्र ने तो अपने माता-पिता को इस संबंध में बता दिया, मगर प्रिंस ने ऐसा नहीं किया. इस पर उससे कहा गया कि वह अपने पिता को बुलाए, नहीं तो उसे स्कूल में प्रवेश नहीं दिया जाएगा. ऐसे में पुलिस ख़ुदकुशी के इस मामले में सभी पहलुओं से जांच कर रही है.

10 वर्षीय बच्ची को रूम में ले गई वार्डन, निजी अंगों से की छेड़छाड़, बनाया Video

निमाड़ उत्सव में कलाकारों ने दी प्रस्तुति, बड़ी संख्या में दर्शकगण मौजूद

दिव्यांग सेंटर में युवती से किया दुष्कर्म, आरोपी पुलिस की गिरफ्त में

 

रिलेटेड टॉपिक्स
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -