अमेरिका, जापान और दक्षिणी कोरिया ने दिखाई हाइड्रोजन बम के परीक्षण के खिलाफ एकजुटता

Jan 07 2016 04:17 PM
अमेरिका, जापान और दक्षिणी कोरिया ने दिखाई हाइड्रोजन बम के परीक्षण के खिलाफ एकजुटता

वॉशिंगटन : उतर कोरिया द्वारा हाइड्रोजन बम बनाए जाने के बाद से ही पूरी दुनिया के कान खड़े हो गए है। अमेरिका, जापान और दक्षिण कोरिया ने हाइड्रोजन बम के सफल परीक्षण के दावों को लेकर एक एकीकृत और कड़ी अंतर्राष्ट्रीय प्रतिक्रिया की ओर आगे बढ़ने का निर्णय किया है। अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने हाइड्रोजन बम के परीक्षण के बाद सुरक्षा की स्थिति को देखते हुए दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति पार्क ग्वेन ये और जापान के पीएम शिंजो आबे से फोन पर बात की।

व्हाइट हाउस ने कहा कि तीनों देशों के नेताओं ने उतर कोरिया के लापरवाह आचरण के जवाब में एक एकीकृत मजबूत अंतर्राष्ट्रीय प्रतिक्रिया की ओर बढ़ने का फैसला किया है। ओबामा और शिंजो के बीच बातचीत होने के बाद व्हाइट हाउस ने कहा कि ओबामा ने जापान की सुरक्षा को लेकर अमेरिका की अटूट प्रतिबद्धता जताई।

ओबामा और पार्क के बीच हई बातचीत में दोनों नेताओं ने परीक्षण की निंदा की। दोनों नेता इस बात पर सहमत हुए कि उत्तर कोरिया की कार्रवाई संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के कई प्रस्तावों सहित अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत उसके दायित्वों एवं प्रतिबद्धताओं का एक और उल्लंघन है। अमेरिका के विदेश मंत्री जॉन केरी ने भी परीक्षण के संबंध में दोनों देशों के अपने समकक्षों से बात की।