अमेरिका रक्षा विभाग का दावा, गर्मी तक भी नहीं मिल पाएगा इस वायरस का कोई तोड़

वाशिंगटन: जैसा कि हम सभी जानते है है कोई दुनियाभर में बढ़ाता जा रहा कोरोना जैसी महामारी का खौफ अब और भी भयानक रूप लेता जा रहा है, जंहा हर दिन इस वायरस के कारण लाखों लोग संक्रमण का शिकार होते जा रहे है, जंहा इस वायरस के करण केवल संक्रमितों का आंकड़ा ही नहीं बल्कि मरने वालों की संख्या भी बढ़ती जा रही है. जंहा अब भी कोरोना वायरस का तोड़ निकलने के लिए दुनिया भर के बड़े से बड़े डॉक्टर्स और वैज्ञानिक दिन रात मेहनत कर रहे है. वही  यदि हम बात करें दुनियाभर में होने वाली मौत के आंकड़ों के बारें में तो आधिकारिक वेबसाइट WORLDOMETER के अनुसार अब तक 329,732 लोगों की मौत हो चुकी है. जिसके बाद से लोगों में खौफ और भी तीव्रता से बढ़ता जा रहा है. वहीं हाल ही में अमेरिकी रक्षा मंत्रालय के मुख्यालय पेंटागन से कोरोना वायरस से जुड़े दस्तावेज लीक हुए हैं, जिसमे चेतावनी दी गई है कि अगले साल (2021) की गर्मी (जून-जुलाई) तक कोरोना की वैक्सीन नहीं मिल पाएगी. इसकी वजह से दुनियाभर में कोरोना वायरस मौजूद रहेगा. साथ ही इनमें ये संभावना भी जताई गई है कि कोरोना का संक्रमण दोबारा बड़े पैमाने पर फैल सकता है. रिपोर्ट के अनुसार दस्तावेजों पर किसी के हस्ताक्षर नहीं है. दस्तावेजों को होमलैंड डिफेंस एंड ग्लोबल सिक्योरिटी के सहायक सचिव ऑफ डिफेंस केनेथ रपुआनो ने रक्षा सचिव मार्क इस्पर के लिए तैयार किया है.

मिली जानकारी के अनुसार दस्तावेजों में सेना को लेकर कहा गया है कि हमारे सामने लंबा रास्ता है और हमें दोबारा अपने महत्वपूर्ण मिशन में जुटना चाहिए. हमें कोरोना के दोबारा फैलने को लेकर पूरी तरह तैयार रहना होगा. अमेरिका में वैक्सीन को लेकर कुछ पॉजिटिव परिणाम सामने आए हैं, लेकिन निश्चित तौर पर अभी वैक्सीन के बारे में कुछ भी कहा जाना संभव नहीं है. व्हाइट हाउस के कोरोना वायरस टास्क फोर्स के एक सदस्य एंथोनी फौसी ने कहा है कि यह संभव है कि जनवरी में एक वैक्सीन तैयार हो जाए. हालांकि, उन्होंने चेतावनी दी है कि इसकी कोई गारंटी नहीं है एक ही टीका ही प्रभावी होगा.

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मलेरिया के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन लेने के लिए हो रही आलोचना पर अपने जवाब में इसे कोरोना वायरस के बचाव का एक तरीका बताया. ट्रंप ने खुलासा किया था कि वह इस जानलेवा संक्रमण से बचने के लिए यह दवा ले रहे हैं.

अमेरिका में बढ़ा कोरोना का खौफ, 24 घंटों में 1500 से अधिक मौत

क्या ऊदबिलाव से फैला था नया प्रकार का कोरोना वायरस ?

कोरोना संकट के बीच रद्द हुई इंग्लैण्ड के खिलाड़ियों की ट्रेनिंग

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -