कन्हैया की स्पीच पर ट्विटर पर छिड़ी राजनीतिक जंग

नई दिल्ली : जवाहरलाल नेहरू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया द्वारा विश्वविद्यालय परिसर में गुरूवार की रात दिए गए भाषण में राजनेताओं की जमकर प्रशंसा की गई। इस मामले में संसदीय कार्य मंत्री एम वैंकेया नायडू ने कहा कि  कन्हैया पब्लिसिटी पाने के लिए यह सब कर रहा है। उसकी पार्टी केवल सिंगल डिजिट में ही गिनी जा सकती है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने जवाहरलाल नेहरू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया द्वारा जो भाषण किदया गया उसका समर्थन किया और उसकी इतनी प्रशंसा की कि यह बात सोश्यल मीडिया पर छाई रही। उन्होंने ट्विट कि कन्हैया बहुत ही ब्रिलियंट स्पीच दी गई है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कहा था कि विद्यार्थियों से पंगा न लिया जाए।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने भी इस मामले में केंद्र सरकार का विरोध किया। कांग्रेस के नेता दिग्विजय सिंह ने ट्विट किया और फिर ट्विटर पर जैसे लड़ाई ही छिड़ गई। मप्र के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव दिग्विजय सिंह के ट्विट ने पुलिस और गृहमंत्री को धन्यवाद दिया और लिखा कि उन्होंने कन्हैया को छात्रों के बड़े नेता के तौर पर स्थापित किया गया है। दिग्विजय सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर टिप्पणी की और कहा कि मोदी को एक विद्यार्थी ने ही भाषण देने के मामले में हरा दिया। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -