विकास दुबे को शरण देने वाला अर्पित तिवारी गिरफ्तार, घोषित था 25 हज़ार का इनाम

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात से बिकरू कांड के कुख्यात आरोपी विकास दुबे और उसके आरोपी साथियों को पनाह देने वाले एक और शख्स को कानपुर पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है. पुलिस ने मददगार आरोपी अर्पित तिवारी पर 25 हजार का इनाम भी घोषित कर रखा था. उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. तिवारी ने बिकरू काण्ड के मुख्य आरोपी और उसके साथियों को घटना के बाद अपने खेत में ट्यूबवेल पर बने कमरे में पनाह दी थी. पुलिस उसकी लगातार तलाश कर रही थी.

बता दें कि 2 जुलाई 2020 को विकास दुबे ने उसके गांव बिकरू में साथियों के साथ मिलकर दबिश देने गई पुलिस की घेराबंदी कर CO सहित 8 पुलिस वालों को मार डाला था. हत्या करने के बाद विकास दुबे, उसके भतीजे अमर दुबे, प्रभात, मिश्रा और अन्य साथी मौके से फरार हो गए थे. तब वे भागकर जिले के ही मंगलपुर थाना क्षेत्र के करिया झाला गांव में रहने वाले अर्पित तिवारी के घर पहुंचे थे. यहां से अर्पित ने सभी को अपने खेत में ट्यूबवेल पर बने कमरे में ठहराया था. अर्पित ने उनके खाने पीने से लेकर सोने तक का प्रबंध किया था.

दूसरे दिन विकास दुबे यहां से कार में सवार हो अपने साथियों और असलहे के साथ भाग निकला था. मामला जानकारी में होने के बाद से अर्पित लगातार फरार था. गत वर्ष STF ने विकास दुबे से संबंधित हथियारों की तस्करी का मामला पकड़ा तो उसके फरार होने और उसके मददगारों की पूरी पिक्चर भी सामने आ आई. इसके बाद से पुलिस लगातार अर्पित तिवारी की खोज में लगी हुई थी. कानपुर की पुलिस ने उसे 19 जनवरी को ही अरेस्ट कर जेल भेज दिया था. 

PUBG का ऐसा चढ़ा नशा कि लड़के ने कर दी पूरे परिवार की हत्या

नाबालिग को नशीली दवा पिलाने और जबरन देह व्यापार करने के आरोप में एक गिरफ्तार

असम: रुपये लूटने के आरोप में महिला गिरफ्तार

Most Popular

- Sponsored Advert -