यूपी सरकार ने जीका वायरस के लिए घर-घर जाकर जांच की

लखनऊ: जीका वायरस  के स्तर को कम करने के लिए, उत्तर प्रदेश सरकार ने व्यापक निगरानी बढ़ा दी है और राज्य भर में  सर्वेक्षण किया है। स्वास्थ्य कर्मी जीका के फैलाव को रोकने के लिए राज्य सरकार की रोकथाम रणनीति के हिस्से के रूप में बड़े पैमाने पर स्वच्छता, राज्य व्यापी निगरानी अभियान, लार्वा रोधी रसायनों का छिड़काव, फॉगिंग और स्वच्छता अभियानों का व्यापक अभ्यास कर रहे हैं । एक सरकारी प्रवक्ता के अनुसार, स्वास्थ्य पेशेवर वायरल बुखार, वेक्टर जनित संक्रमण और अन्य लक्षणों वाले लोगों की पहचान करने के लिए घर-घर जा रहे हैं । 

उत्तरप्रदेश की सरकार ने सभी राज्य में ज़ीका के बुखार को कम करने के लिए हर जगह पोस्टर लगाए है और लोगो को बुखार आने में हॉस्पिटल जाने की हिदायत दी है|  

योगी आदित्यनाथ, मुख्यमंत्री ने निजी अस्पतालों के लिए जीका वायरस से संक्रमित मरीजों का इलाज करना भी अनिवार्य कर दिया है, और जीका और डेंगू को लेकर कोई घबराहट नहीं होने की गारंटी के लिए एकीकृत कमांड सेंटर के माध्यम से बुखार के मामलों को ट्रैक किया जा रहा है ।

गोबर खाते हुए MBBS डॉक्टर का वीडियो वायरल, बताई हैरान करने वाली वजह

नए रिकॉर्ड की तरफ बढ़ रहा सोने-चांदी! कीमतों में आया भारी उछाल, जानिए आज का भाव

Ind Vs Nz: 'रोहित और राहुल' के साथ नए मिशन पर टीम इंडिया, जयपुर में न्यूजीलैंड से मुकाबला आज

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -