यूपी चुनाव: मायावती बोलीं- कांग्रेस, भाजपा और सपा के चुनावी वादों से सावधान रहे जनता

लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश में अगले साल प्रस्तावित विधानसभा चुनाव के लिए सभी राजनीतिक दलों ने अपनी पूरी जान लगा दी है। ज्‍यादा से ज्‍यादा वोटर्स को लुभाने के उद्देश्य से तमाम सियासी दलों ने चुनावी वादों की झड़ी लगा दी है। इस बीच शुक्रवार को बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो और पूर्व सीएम मायावती ने चुनावी वादों को प्रलोभन करार देते हुए हुए भाजपा, सपा और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। मायावती ने एक के बाद एक ट्वीट करते हुए सवाल किया कि जो वादे आज किए जा रहे हैं वे सरकार रहते पूरे क्‍यों नहीं किए गए। 

मायावती ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा कि, 'यूपी में खासकर भाजपा, सपा, कांग्रेस आदि के द्वारा प्रदेश की जनता को लुभाने व गुमराह करने के लिए आए दिन प्रलोभन भरे जो चुनावी वादों की झड़ी लगाई जा रही है, जिनको सत्ता में आने के बाद  अधिकांशः भुला दिया जाता है। अभी तक का इनका यही इतिहास रहा है। जनता इनसे सतर्क रहे।' आगे उन्होंने लिखा कि, अर्थात् भाजपा व सपा जनता को जो वादे कर रही  हैं वे काम उन्होंने यहाँ अपनी सरकार के रहते हुए क्यों नहीं किए? कांग्रेस पार्टी भी महिलाओं को 40 % टिकट व स्कूटी आदि देने के जो वादे कर रही है वे काम इन्होंने उन राज्यों में क्यों नही किए जहाँ इनकी सरकारें हैं? यह भी सोचने की बात है।'

वहीं, यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के मथुरा में श्री कृष्ण मंदिर वाले बयान पर मायावती ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, 'यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य द्वारा विधानसभा आमचुनाव के नजदीक दिया गया बयान कि अयोध्या व काशी में मन्दिर निर्माण जारी है अब मथुरा की तैयारी है, यह भाजपा के हार की आम धारणा को पुख्ता करता है। इनके इस आखिरी हथकण्डे से अर्थात् हिन्दू-मुस्लिम राजनीति से भी जनता सावधान रहे।'

'भाजपा केवल नाम बदलती है, जनता अब सरकार बदलेगी..', CM योगी पर अखिलेश यादव का तंज

यूपी चुनाव: 403 में से 325 सीटें जीतेगी भाजपा.., सीएम योगी ने की भविष्यवाणी

अमित शाह ने किया 'मां शाकुंभरी विश्वविद्यालय' का शिलान्यास, दिखाया योगी सरकार का रिपोर्ट कार्ड

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -