योगी सरकार आज पेश करेगी चौथा बजट, इतने लाख करोड़ की योजनाओं पर रहेगा फोकस

योगी सरकार आज पेश करेगी चौथा बजट, इतने लाख करोड़ की योजनाओं पर रहेगा फोकस

आज यानि मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली उत्तर प्रदेश की सरकार विधानमंडल के दोनों सदनों में वित्तीय वर्ष 2020-21 का बजट पेश करेगी. बजट आकार 5 से 5.25 लाख करोड़ होने का अनुमान है. बजट के माध्यम से प्रदेश सरकार एक्सप्रेस वे, महिला कल्याण एवं सुरक्षा, शुल्क प्रतिपूर्ति व छात्रवृत्ति, पूर्वांचल व बुंदेलखंड को पैकेज, मेडिकल कालेजों का निर्माण, बड़े शहरों के मेट्रो प्रोजेक्ट को भरपूर धनराशि दे सकती है.

अखिलेश यादव ने किया 2022 में अकेले दम पर सरकार बनाने का दावा

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार का यह चौथा बजट है, जिसमें युवाओं और महिलाओं पर खास फोकस होने की उम्मीद है. यह पहला मौका होगा जब दोनों सदनों में बजट सुबह 11 बजे पेश किया जाएगा. पिछले वर्षों में बजट दोपहर 12.20 बजे पेश किया जाता था. बजट में पूर्वांचल और बुंदेलखंड के पिछडऩेपन को दूर करने के लिए अच्छी खासी धनराशि देने की बातें बताई जा रही हैं. इस धनराशि से इन दोनों क्षेत्रों की समस्याओं को दूर करने की कोशिश होगी. सड़क, बिजली, पानी से जुड़ी योजनाओं को तेज किया जाएगा.

महिला जज ने बेटे की मौत के बाद उठाया बेड़ा, ड्राइवरों को देगीं मुफ्त ट्रेनिंग

विधानसभा में वित्त मंत्री सुरेश खन्ना बजट पेश करेंगे तो विधान परिषद में इस परंपरा को नेता सदन उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा निभाएंगे. विधानमंडल में पेश किये जाने से पहले मंगलवार सुबह 9.30 बजे लोकभवन में होने वाली कैबिनेट बैठक में बजट के मसौदे को मंजूरी दी जाएगी. बजट का आकार 5.15 लाख करोड़ रुपये होने का अनुमान है. समावेशी विकास के फॉर्मूले के तहत नये बजट के जरिये योगी सरकार युवाओं, महिलाओं और किसानों को साधने की कोशिश करेगी.

राहुल गाँधी पर स्मृति ईरानी का हमला, कहा- बेगानी शादी में अब्दुल्ला दीवाना

कोरोना वायरस के चलते मानवाधिकार कार्यकर्ता ने की चिनफिंग के इस्तीफे की मांग, हुआ गिरफ्तार

कोरोना का साया अब चीन संसद सत्र पर साया, 105 मौते और ....