'बीजेपी की सरकार में जनता न्याय की उम्मीद नहीं है', रैली में बोलीं प्रियंका गाँधी

वाराणसी: यूपी कांग्रेस ने आज से 2022 विधानसभा चुनाव के लिए औपचारिक रूप से अपने चुनावी अभियान को आरम्भ कर दिया है। जी दरअसल आज प्रियंका गांधी ने पहले वाराणसी के काशी विश्वनाथ मंदिर और दुर्गा मंदिर में पूजा-अर्चना की। वहीं इसके बाद अब वह एक रैली को संबोधित कर रही हैं। आपको बता दें कि इस रैली का नाम पहले 'प्रतिज्ञा रैली' रखा गया था, लेकिन अब इसे बदलकर 'किसान न्याय रैली' नाम दे दिया गया है। इस रैली में अपने संबोधन की शुरुआत प्रियंका गांधी ने मां दुर्गा के एक श्लोक से की।

उसके बाद उन्होंने योगी सरकार पर हमला बोलेते हुए कहा, 'बीजेपी की सरकार में जनता न्याय की उम्मीद नहीं है।' उन्होंने कहा, 'यहां जो लोग न्याय मांगते हैं, उन्हें दबाया जाता है। चाहे हाथरस का मामला हो, चाहे उन्नाव का या अब लखीमपुर खीरी का। बीजेपी की सरकार न्याय देने में असफल है। पीएम मोदी आजादी का महोत्सव मनाते हैं, लेकिन ये आजादी किसने दी है। ये आजादी किसानों ने दी है। जिससे वे मिलने नहीं जाते हैं।'

इसी के साथ उन्होंने कहा, 'जब लखीमपुर में शहीद नक्षत्र सिंह के घर गई, तो पता चला कि उनका बेटा सीमा सुरक्षा बल में दाखिल हुआ है। जब मैं अगले परिवार से मिलने गई तो बताया गया कि उनके भाई-बहन सेना में देश की सेवा करते हैं। जब मैं पत्रकार रमन कश्यप के घर गई तो बताया गया कि वो वीडियो ले रहे थे, इसलिए उन्हें कुचल दिया गया। सारे परिवारों ने मुझसे कहा कि उन्हें न्याय मिलने की उम्मीद नहीं है। अगर सरकार, मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री, गृह राज्यमंत्री, विधायक सभी मिले हुए हैं तो जनता किसके पास जाए।'

काशी विश्वनाथ मंदिर और माँ कूष्मांडा के दर्शन कर जनसभा को संबोधित करने पहुंची प्रियंका गांधी

‘शिवसेना का विलय कांग्रेस में’, BJP के निशाने पर संजय राउत

आज वाराणसी में होगी प्रियंका गांधी की 'किसान न्याय रैली'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -