उन्नाव गैंगरेप : डीजीपी के 'माननीय विधायक' और मामले के 260 दिन

उन्नाव गैंगरेप केस में यूपी पुलिस ने मामले की जांच और आगे की कार्यवाही के लिए सीबीआई की जांच का हवाला देते हुए अपना पल्ला झाड़ लिया है. इससे पहले कल हुई एसआईटी जांच पर पुलिस, प्रशासन और अस्पताल स्तर पर बड़ी लापरवाही सामने आई है. लेकिन आरोपी विधायक की गिरफ्तारी के सवाल पर यूपी के डीजीपी ओपी सिंह कहा कहना है कि वह अभी सिर्फ आरोपी हैं. उनके गिरफ्तारी का फैसला सीबीआई करेगी. डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि विधायक जी के खिलाफ दोष साबित नहीं हुआ है. उनके खिलाफ सिर्फ आरोप लगा है. पीड़िता की मां की तहरीर के आधार पर उन पर आईपीसी की धारा 363, 366, 376, 506 और पॉक्सो कानून के तहत केस दर्ज किया गया है. इस केस की जांच की सिफारिश सीबीआई से की गई है. इस मामले की जांच अब सीबीआई ही करेगी और विधायक को गिरफ्तार करना है या नहीं यह उसका फैसला होगा. डीजीपी ने आरोपी को जब 'माननीय विधायक' कहा तो इस पर भी बवाल खड़ा हो गया.

उन्नाव गैंगरेप केस का अब तक का कच्चा चिठ्ठा -
4 जून 2017: पीड़िता का आरोप है कि इस दिन बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उनके लोगों ने उसके साथ गैंगरेप किया.

11 जून 2017: पीड़िता अपने घर से गायब हो गई

12 जून 2017: उसकी मां ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए पीड़िता को औरेया से बरामद किया. इसके बाद उसे कोर्ट में पेश किया गया. जज के सामने धारा 164 के तहत उसका बयान दर्ज कराया गया.

1 अगस्त 2017: उन्नाव पुलिस ने इस मामले में कोर्ट में चार्जशीट फाइल कर दी. इसके बाद पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया.

30 जून 2017: पीड़िता के चाचा उसे लेकर दिल्ली गए. वहां पीड़िता ने अपनी चाची को इस घटना के बारे में बताया.

17 अगस्त 2017: उन्नाव वापस आकर पहली बार पीड़िता ने गैंगरेप से संबंधित तहरीर थाने में दी. पुलिस ने जांच के बाद जज के सामने धारा 164 के तहत उसका बयान दर्ज कराया. इस बयान में पीड़िता ने आरोपी विधायक का नाम नहीं लिया था.

3 अप्रैल 2018: पीड़िता के पिता से साथ मारपीट की गई. जेल में पेट दर्द की शिकायत और खून की उल्टियां करने के बाद उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी मौत हो गई. इसके बाद डीआईजी जेल लव कुमार और डीएम उन्नाव के इस मामले की जांच सौंपी गई.

मामले की जांच सीबीआई के हवाले कर दी गई है. वही पीड़िता विधायक को हिरासत में लिए जाने की मांग कर रही है और उसका कहना है कि उसे और उसके परिवार को विधायक से जान का खतरा है. मामले को 260 दिन हो चुके है 

उन्नाव गैंगरेप पर राहुल गाँधी की प्रतिक्रिया

उन्नाव रेप केस में सामने आई बॉलीवुड अभिनेत्रियों की प्रतिक्रिया

उन्नाव रेप केस: विधायक सेंगर का भाई गिरफ्तार

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -