मैदान पर लौटे खिलाड़ी, एमपी में शुरू हुई खेल की गतिविधियां

Jul 03 2020 12:32 PM
मैदान पर लौटे खिलाड़ी, एमपी में शुरू हुई खेल की गतिविधियां

भोपाल : कोरोना की रोकथाम के लिए लॉकडाउन को लागू किया गया था. अब स्तिथि को देखते हुए धीरे-धीरे सब कुछ खोला जा रहा है. वहीं कोरोना महामारी के कारण एमपी में खेल की गतिविधियां भी पूरी तरह से बंद कर दी गयी थीं. अब अनलॉक 2 में 2 जुलाई से कुछ खेल की गतिविधियां एमपी में शुरू कर दी गई हैं. हालांकि पहले दिन कुछ खेलों के खिलाड़ी मैदान में दिखाई दिए हैं. लॉकडाउन के बाद प्रदेश में खेल की गतिविधियां चरणबद्ध तरीके से शुरू की जा रही है. अब इसकी तैयारी शुरू हो गई है.

दरअसल 2 जुलाई से चौथे चरण में साइकिलिंग, शूटिंग, व्हाली-बॉल, ताइक्वांडो, कराटे, वेटलिफ्टिंग और जिम्नास्टिक खेल का संचालन शुरू हो गया है. खिलाड़ियों ने भोपाल के गोरेगांव स्थित शूटिंग अकादमी में शूटिंग, एरोड्रम रानीताल जबलपुर में साइकिलिंग और टीटी नगर स्टेडियम भोपाल में व्हाली-बॉल, ताइक्वांडो, कराते, वेटलिफ्टिंग और जिम्नास्टिक खेलों का अभ्यास कर पाएंगे. कोरोना के वजह से खिलाड़ियों, प्रशिक्षकों एवं सहायक स्टाफ को सामान्य शर्तों और सावधानियों का पालन करना जरुरी होगा. व्हाली-बॉल, बीच व्हाली-बॉल में अभ्यास के दौरान ट्रेनिंग पार्टनर में बदलाव नहीं किया जा सकता है. प्रत्येक रायफल एवं शूटिंग रेंज में एक वक्त में 10 से अधिक खिलाड़ी प्रवेश नहीं कर पाएंगे.  

जानकारी के लिए बता दें की ट्रेप और स्कीट में एक रेंज में एक वक्त में 3 से अधिक खिलाड़ी अभ्यास नहीं कर पाएंगे. शेष अन्य खेलों में एक वक्त में 10 से अधिक खिलाड़ी मैदान/हॉल एवं प्रैक्टिस एरिया में प्रवेश नहीं कर पाएंगे. प्रैक्टिस के दौरान कोविड-19 के प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करना जरुरी होगा. इसमें कोई भी लापरवाही स्वीकार नहीं की जा सकती है.  

गोलियों की तड़तड़ाहट से गूँज उठा कानपुर, देर रात हुए एनकाउंटर में 8 पुलिसकर्मी शहीद

यूपी में कोरोना के 817 नए मामले, इस जिले में फिर लगा पूर्ण लॉकडाउन

टिक टॉक के साथ आईआईएम इंदौर नहीं बनाएगा शार्ट वीडियो, नए विकल्प की तलाश शुरू