जन्मदिन विशेष : जब राज कपूर की आँखों में आ गए थे आंसू, वजह बने थे पंकज उधास

बॉलीवुड से लेकर सोलो सॉन्ग्स तक गजल सिंगर पंकज उधास ने हर जगह बेहद नाम कमाया है और अपनी फैन फॉलोइंग भी उन्होंने काफी जबरस्त बनाई है. 17 मई 1951 को गुजरात के जीतपुर में जन्में पंकज उधास आज अपना 68वां जन्मदिन मना रहे हैं. सुपरस्टार संजय दत्त की फिल्म नाम में गाई गई गजल 'चिट्ठी आई है' से लोगों के दिलों पर उन्होंने अमित छाप छोड़ी है. उनकी मखमली आवाज आज भी उन्हें हर जगह आगे खड़ा करती है.

आपको जानकारी के लिए बता दें कि पंकज के पिता एक किसान थे और उनके घर में उनके अलावा दो दोनों भाई भी गायक थे. पंकज ने जब अपनी पहली स्टेज परफॉर्मेंस में देशभक्ति गीत 'ऐ मेरे वतन के लोगों' को गुनगुनाया था, उन्हें इसके लिए 51 रु पुरष्कार के रूप में मिले थे.  

जब पंकज उधास की गजल सुनकर रो पड़े थे राज कपूर...

एक किस्सा यह भी मश्हूर है कि जब पंकज उधास की गजल सुनकर मशहूर अभिनेता राज कपूर की आँखों से भी आंसू निकल आए थे. सीनियर एक्टर राजेंद्र कुमार और राज कपूर काफी अच्छे दोस्त थे. जिस गाने से यह किस्सा जुड़ा है वह गाना है 'चिट्ठी आई है'. किस्सा इस गाने की रिलीज के पहले का है और इस गाने की एडिटिंग डेविड धवन ने की थी, जब यह गाना एडिट करके तैयार हुआ तब एक दिन राजेंद्र कुमार ने राज कपूर को डिनर पर अपने घर बुलाया था. वहीं खाने के बाद जब राजेंद्र ने ये गाना राज कपूर को सुनाया तो वे उस दौरान रो पड़े थे. फिल्म इंडस्ट्री में ये वाकया काफी मशहूर रहा है. 

दे दे प्यार दे : दिल्ली पहुंचे अजय-तब्बू, जमकर किया फिल्म का प्रमोशन

जन्मदिन विशेष : हॉरर फिल्मों के जनक थे श्याम, रामसे ब्रदर्स ने बॉलीवुड में मचाया था तहलका

अनुपम खेर का बयान, राहुल गांधी अच्छे इंसान, लेकिन...

कृति सेनन ने मचाया तहलका, शेयर की बेहद हॉट तस्वीरें

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -