ओलंपिक्स में मैच से पहले खिलाड़ियों को मिलते हैं कंडोम, सच जानकर आप भी बनना चाहेंगे खिलाड़ी

कंडोम एक ऐसी चीज़ हैं जिसके बारे में हम सभी जानते हैं. यदि कोई इंसान नेट ऑन करके किसी न्यूज़ पोर्टल पर जाकर न्यूज़ पढ़ सकता हैं, तो ज़ाहिर हैं उसने न्यूज़ पढ़ने से पहले कई और भी चीज़ें पढ़ रखी होंगी, जिससे तंग आकर वह अब न्यूज़ पढ़ने बैठा हैं. आपको बता दें कि पूरी दुनिया में मात्र सेक्स ही एक ऐसा सब्जेक्ट हैं जिसे कभी सिखाया नहीं जाता. उम्र के साथ-साथ इसका ज्ञान खुद-बखुद आने लगता हैं. कंडोम विज्ञान की ज़बरदस्त देन हैं, जिससे संसार कि बढ़ती जनसँख्या पर काबू पाया जा सकता हैं.

अफ्रीका एक ऐसा देश में जहां दुनिया में सबसे ज्यादा कंडोम की बिक्री होती है. लेकिन वहीं यदि वैलेंटाइन्स डे की बात की जाए तो, केवल अमेरिका में 14 फरवरी के दिन हरेक सेकंड 87 कॉन्डम्स बिकते हैं. इस हिसाब से आप अंदाजा लगा सकते हैं कि वहां का प्यार कितना सच्चा हो सकता है. इतना ही नहीं खेल के दौरान भी खिलाड़ियों को भी कॉन्डम्स बांटे जाते हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सोची ओलिंपिक के दौरान खिलाड़ियों को 1 लाख के कॉन्डम्स बांटे गए थे. यह कॉन्डम्स इस उद्देश्य से बांटे गए थे ताकि खिलाड़ी भरपूर सेक्स का आनंद ले सकें और बिना किसी टेंशन के खेल में अच्छा परफॉर्म कर सकें. इसी कड़ी में 2016 के ओलंपिक्स में भी हरेक खिलाड़ी को 47 कॉन्डम्स दिए गए थे.

इस देश में इस्तेमाल किए जाते हैं सबसे ज्यादा कंडोम

जब इस आदमी के हाथ हुए कानों से भी लम्बे

प्रोफ़ेशनल फ़ोटोग्राफर्स ने दिखाया अपने शातिर दिमाग का नमूना

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -