अमेरिका ने संयुक्त इराक को समर्थन दोहराया

May 06 2015 12:05 PM
अमेरिका ने संयुक्त इराक को समर्थन दोहराया

वाशिंगटन : ओबामा प्रशासन ने संयुक्त इराक को समर्थन देने के अपने वादे को दोहराया तथा इसके कुर्दिस्तान क्षेत्र के अलग होने की आकांक्षा पर विरोध जताया। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, व्हाइट हाउस ने एक बयान जारी कर बताया कि राष्ट्रपति बराक ओबामा और उप राष्ट्रपति जोसेफ बाइडेन ने अर्ध-स्वायत्त कुर्दिस्तान क्षेत्र के राष्ट्रपति मासौद बरजानी से व्हाइट हाउस में मंगलवार को मुलाकात की और स्ट्रेटेजिक फ्रेमवर्क एग्रीमेंट के अंतर्गत संयुक्त, संघीय और लोकतांत्रिक इराक को अपना समर्थन दोहराया।

बरजानी की क्षेत्रीय सरकार की बगदाद की केंद्रीय सरकार से तेल, जमीन और सत्ता साझेदारी के मसले पर तकरार हो चुकी है। वहीं, बरजानी ने कुर्दिस्तान को अलग करने के लिए पिछले गर्मी में जनमत संग्रह कराने का आह्वान किया था। व्हाइट हाउस के प्रवक्ता जोश अर्नेस्ट ने नियमित प्रेस वार्ता के दौरान कहा, "अमेरिका का यह नजरिया बना हुआ है कि समावेशी तरीके से शासन करने वाला संयुक्त इराक, इराक के विविधतापूर्ण आबादी के लिए बेहतर रहेगा।"

पूर्व प्रधानमंत्री नूरी अल-मलिकी को घरेलू तथा अंतर्राष्ट्रीय दबाव के कारण पिछले साल अगस्त में देना पड़ा था, जिनकी नीतियों को इराक में सांप्रदायिक विभाजन के लिए जिम्मेदार माना जा रहा था। अमेरिका तथा अन्य देश इस्लामिक स्टेट द्वारा इराक के कब्जे में लिए गए स्थानों पर फिर नियंत्रण स्थापित करने के लिए हैदर अल-अबादी नीत इराकी सरकार के प्रयास का समर्थन कर रहे हैं।