UAE ने रचा इतिहास, मंगल ग्रह की कक्षा में पहुंचा अंतरिक्ष यान

दुबई: संयुक्त अरब अमीरात (UAE) का अंतरिक्ष यान अमल मंगलवार को मंगल ग्रह की कक्षा में दाखिल हो गया है। अरब दुनिया के पहले इंटरप्लेनेटरी मिशन की इस कामयाबी के बाद दुबई में UAE के अंतरिक्ष केंद्र में ग्राउंड कंट्रोलर की खुशी का ठिकाना न रहा। तक़रीबन सात महीने में 300 मिलियन मील की यात्रा के बाद लाल ग्रह की कक्षा में दाखिल हुआ है। 

ऑर्बिटर ने मंगल की कक्षा में प्रवेश करने के लिए अपने मुख्य इंजनों को 27 मिनट के लिए फायर किया। इससे यान की गति धीमी हो गई और मंगल की ग्रेविटी ने उसे कैप्चर कर लिया। इसके 15 मिनट पश्चात ऑर्बिटर ने पृथ्वी पर सिग्नल भेजे। मिशन के डायरेक्टर ओमरान श्राफ ने इस मिशन के सफल होने का ऐलान किया। इस अंतरिक्ष मिशन को जून 2020 में दक्षिण जापान के तानेगाशिमा स्पेस सेंटर से प्रक्षेपित किया गया था। यह यान एक मंगल वर्ष, यानी 687 दिनों तक उसकी कक्षा में चक्कर काटेगा। 

इस मिशन का उद्देश्य लाल ग्रह के पर्यावरण और मौसम के बारे में जानकारी एकत्रित करना है। मिशन में ऑर्बिटर (44,000 किलोमीटर x 22,000 किलोमीटर) के ऑर्बिट से ऊपरी वायुमंडल और जलवायु परिवर्तन का अध्ययन करेगा। यूएई के इस प्रोजेक्ट की लागत 200 मिलियन डॉलर है, जिसमें लॉन्च शामिल है मगर मिशन ऑपरेशन्स नहीं है।

अमेरिका में नए कोरोनवायरस वायरस के 944 मामले आए सामने

पुर्तगाल-स्पेन ने 1 मार्च तक किया भूमि सीमा प्रतिबंधों का विस्तार

कोरोना वैक्सीन लगवाने से समलैंगिक बन रहे लोग, मुस्लिम धर्मगुरु का बेतुका दावा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -