अनहेल्थी खाना डाल सकता है आपके बच्चे के दिल पर असर

अनहेल्थी खाना डाल सकता है आपके बच्चे के दिल पर असर

हमें अपने बच्चों के दिल को मजबूत करने के लिए बचपन से ही उनमें खान-पान की अच्छी आदतें डालनी चाहिए. जो लोग मिडिल एज में अपने हृदय को दुरूस्त रख लेते हैं, वो लंबा जीवन बिताते है. इस शोध में अच्छे हृदय और ब्लडप्रेशर वाले बच्चों को शामिल किया गया. लेकिन अगर उनका खान-पान अस्वस्थ रहता है तो बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) असंतुलित हो जाता है और शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ने लगती है. 

बच्चों के लिए आप पहले से ही ऐसे खाद्य पदार्थ चुनें, जिनसे बच्चे की जरूरतें पूरी हो सके. शुरुआत में आप अपने शिशु को कम कैलोरी युक्त खाद्य पदार्थ जैसे - सूजी की खीर, घी वाली खिचड़ी, दलिया, कुचला हुआ केला आदि दें. लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि उसे पर्याप्त मात्रा में आयरन मिल रहा है या नहीं, क्योंकि ब्रेस्टफीडिंग के बाद बच्चे को पर्याप्त मात्रा में आयरन न मिलने के कारण उसमें आयरन की कमी होने लगती है.

 इसकी कमी पूरी करने के लिए बच्चे को दालें, फलियां, अंकुरित दालें, ब्रोकली व गोभी दें, इनमें आयरन बहुतायत में होता है. आयरन, बच्चे के शारीरिक व मानसिक विकास के अलावा हीमोग्लोबिन के उत्पादन के लिए जरूरी है. हीमोग्लोबिन कोशिकाओं को ऑक्सीजन पहुंचाने व रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में प्रमुख भूमिका निभाता है.