लाल बत्ती कल्चर के समर्थन में उमा भारती

लाल बत्ती कल्चर के समर्थन में उमा भारती

भोपाल. पंजाब में सरकार बनते ही लाल बत्ती वाली गाड़ियों के कल्चर को खत्म करने की घोषणा हुई, साथ ही उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा ऐसी घोषणा करने की संभावना है. वहीं केंद्रीय मंत्री और मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती लाल बत्ती कल्चर को बनाए रखने के पक्ष में हैं.

उमा भारती के अनुसार, यदि मंत्रियों की गाडि़यों से लाल बत्ती उतर जाएगी तो बहुत तरह की समस्यायें आएंगी और दुर्घटनाओं में वृद्धि होगी. उमा के अनुसार वीआईपी संस्कृति यानि लाल बत्ती को गाडि़यों से हटाने की बजाय यह तय होना चाहिए कि मंत्री कब और किन हालात में लाल बत्ती की गाड़ी का उपयोग करेंगे. यदि कोई मंत्री सरकारी मीटिंग के लिए जा रहे हैं या मंत्रिमंडल की बैठक में जा रहा है तो उसकी गाड़ी पर लाल बत्ती होनी चाहिए.

सरकारी काम से जा रहे मंत्री के लिए हवाई जहाज भी 5-10 मिनट रोके जा सकते हैं. किन्तु यदि कोई मंत्री किसी निजी कार्यक्रम में जा रहा है तो उसकी गाड़ी पर लाल बत्ती नहीं होनी चाहिए. उमा सोमवार को भोपाल में रानी अवंतीबाई की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में भाग लेने आई थीं. इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह भी उनके साथ शामिल हुए.

ये भी पढ़े 

अविवाहित मुख्यमंत्रियों की लिस्ट में शामिल हुआ योगी आदित्यनाथ का नाम

PM के तौर पर मोदी और सीएम के तौर पर योगी का होना 21 वीं सदी की एक अच्छी खबर: उमा भारती

मैं गंगा के अलावा किसी के बारे में नहीं सोचती - उमा भारती

क्रिकेट से जुडी ताजा खबर हासिल करने के लिए न्यूज़ ट्रैक को Facebook और Twitter पर फॉलो करे! क्रिकेट से जुडी ताजा खबरों के लिए डाउनलोड करें Hindi News App

Popular Stories