टिकट कटते ही बागी हुए उदित राज, चौकीदारी छोड़ फिर से बन गए डॉक्टर

टिकट कटते ही बागी हुए उदित राज, चौकीदारी छोड़ फिर से बन गए डॉक्टर

नई दिल्ली: दिल्ली की उत्तर पश्चिमी लोकसभा सीट से टिकट कटते ही भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद उदित राज ‘चौकीदार’ से वापस डॉक्टर बन गए हैं। दोपहर में उत्तर पश्चिमी सीट से सूफी गायक हंस राज हंस के नाम की घोषणा होते ही सांसद उदित राज ने अपने ट्विटर हैंडल में नाम के आगे से चौकीदार हटा दिया है। इससे पहले जब पीएम मोदी ने ट्विटर पर अपने नाम के आगे चौकीदार जोड़ा था, तो भाजपा के सभी नेताओं के साथ ही कार्यकर्ताओं ने भी अपने नाम के आगे चौकीदार लगा लिया था।  

पिछले कई दिनों से उदित राज को टिकट मिलने पर चर्चा चल रही थी। भाजपा ने दिल्ली की 7 लोकसभा में से 6 लोकसभा सीटों पर टिकट की घोषणा कर दी थी, किन्तु अंतिम वक्त तक उदित राज की सीट पर अपने पत्ते नहीं खोले थे। अब नामांकन की समयावधि खत्म होने से कुछ घंटे पहले भाजपा ने जैसे ही हंस राज हंस के नाम की घोषणा की, वैसे ही उदित राज ने अपने ट्विटर हैंडल पर नाम बदल लिया। अब वे फिर से डॉक्टर उदित राज बन गए हैं।

इससे पहले सुबह ही उन्होंने ट्वीट करते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को खुली धमकी दी थी कि अगर अगर पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया तो वे पार्टी को गुड बाय कह देंगे। इसके साथ ही वे आज ही लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए अपना नामांकन फॉर्म दाखिल करेंगे। उन्होंने कहा कि मैं आगे किस पार्टी में जाऊंगा, इसका खुलासा मैं बाद में करूंगा।

खबरें और भी:-

जर्मनी-जापान वाले बयान पर ट्रोल हुए इमरान खान, लोगों ने जमकर की खिंचाई

ओडिशा में पीएम मोदी की हुंकार, कहा- ये लहर नहीं ललकार, फिर एक बार मोदी सरकार

बिलकिस बानो दुष्कर्म मामला: SC का आदेश- पीड़िता को मिले 50 लाख रु, सरकारी नौकरी और आवास