UN : आखिर क्यों दो स्टाफ को किया गया सस्पैंड ?

Jul 03 2020 04:50 PM
UN : आखिर क्यों दो स्टाफ को किया गया सस्पैंड ?

मध्य पूर्व में शांति अभियान के लिए कार्यरत संयुक्त राष्ट्र के दो स्टाफ को सस्पेंड कर दिया गया। दरअसल, इन दोनों पर यौन दुराचार के आरोप हैं। इस बात का खुलासा संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता ने किया। इस दौरान संयुक्त राष्ट्र के इंटरनल इंविस्टिगेशन ऑफिस की ओर से सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो की जांच की गई। इस वीडियो में 'UN' मार्क के साथ एक गाड़ी दिखाई गई है। यह गाड़ी टेल अवीव में देखी गई जिसमें दो स्टाफ ने इस तरह की निंदनीय हरकत की। 

वही गुरुवार को महासचिव एंटोनियो गुटेरस के प्रवक्ता स्टीफन दुजार्रिक ने यह जानकारी देते हुए बताया, कि वीडियो में दिखने वाले दोनों शख्स की पहचान कर ली गई है। संयुक्त राष्ट्र ने इन्हें यरुशलम में शांति दूत के तौर पर यूनाइटेड नेशंस ट्रूस सुपरविजन आर्गेनाइजेशन (United Nations Truce Supervision Organization, UNTSO)) का सदस्य बताया है। पिछले माह सोशल मीडिया पर वायरल हुए इस 18 सेकेंड के वीडियो में गाड़ी की पिछली सीट पर पुरुष के साथ लाल रंग की ड्रेस में एक महिला को देखा जा सकता है। संयुक्त राष्ट्र की ओर से जानकारी मिलते ही जांच शुरू कर दी गई। 

वही आगे बताते हुए महासचिव के प्रवक्ता ने बताया कि इस फुटेज से वे काफी परेशान है। मामले की प्राथमिक जांच में इस बात की पुष्टि हो गई कि इस मामले में दो स्टाफ शामिल थे इन दोनों को जांच पूरी होने तक के लिए सस्पेंड कर दिया गया इस तरह के आरोप UN के शांति दूतों व अन्य स्टाफ पर लंबे समय से लगते रहे हैं। हाल ही कुछ सालो में इस तरह के मामले कुछ ज्यादा ही बढ़ गए है। 2019 में संयुक्त राष्ट्र के सदस्यों पर यौन शोषण के सौ से भी अधिक आरोप हैं। महासचिव एंटोनियो गुटेरस ने संयुक्त राष्ट्र के भीतर आए ऐसे मामलों के लिए 'जीरो टॉलरेंस' की बात कही है। जाँच पूरी होने के बाद इस मामले में कड़ी कार्रवाई कि जाएगी। 

सिंधिया बोले- टाइगर जिन्दा है, कमलनाथ ने पुछा- 'कौन सा ? सर्कस वाला या पेपर का '

सोनिया-राहुल और कमलनाथ के चीन के साथ गहरे सम्बन्ध ! CBI जांच की मांगशिवसेना का केंद्र पर हमला, कहा- धारा 370 हटने के बाद भी जम्मू कश्मीर में नहीं हुआ कोई सुधार

दिल्ली में झमाझम बारिश शुरू, मुंबई में अगले दो दिनों के लिए ऑरेंज अलर्ट