वोटिंग समाप्त होने के बाद स्कूटी पर EVM मशीन ले जा रहे लोगों को भीड़ ने घेरा और फिर...

Apr 07 2021 02:07 PM
वोटिंग समाप्त होने के बाद स्कूटी पर EVM मशीन ले जा रहे लोगों को भीड़ ने घेरा और फिर...

तमिलनाडु में विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग समाप्त होने के उपरांत स्कूटी पर EVM रखकर ले जाने का केस सुनने को मिला है। स्कूटी पर EVM रखकर ले जा रहे लोगों को भीड़ ने पकड़ा। यह केस वेलाचेरी का है, जहां मंगलवार शाम वोटिंग समाप्त होने के उपरांत 2 लोग स्कूटी पर EVM रखकर ले जा रहे थे। द्रमुक (DMK) का दावा है कि ये लोग EVM के साथ कोई गड़बड़ करने का अनुमान लगाया जा रहा है। हालांकि, इन लोगों को भीड़ ने देख लिया, जिसके बाद पुलिस उन्हें अपने साथ ले गई। 

हंगामा उस वक़्त और बढ़ गया, जब पुलिस ने अवसर से 3 लोगों को बिना किसी जांच के वहां से हटाने का प्रयास किया। जिसके उपरांत कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन शुरू कर दिया। जबकि द्रमुक नेता और चेन्नई के पूर्व मेयर MA सुब्रमणियम ने चुनाव आयोग से इस पूरे केस पर सफाई मांगी। केस बढ़ता देख राज्य के मुख्य चुनाव अधिकार सत्यब्रत साहू ने सफाई दी कि स्कूटी पर EVM ले जाने वाले चुनाव आयोग के ही कर्मचारी थे। उन्होंने बोला कि उनके दो कर्मचारियों ने ये गलती की है और जिसकी कार्रवाई के आदेश जारी किए जा चुके हैं। हालांकि, साहू ने ये भी कहा कि इन EVM का इस्तेमाल वोटिंग के लिए नहीं हुआ था।

मिली जानकरी के अनुसार तमिलनाडु की 234 विधानसभा सीटों के लिए 6 अप्रैल को एक ही फेज में वोटिंग हो पाई थी। अब तक मिली सूचना के अनुसार राज्य में  72।78% वोटिंग हुई। यहां बहुमत के लिए 118 सीटें जीतना जरूरी है। 2016 में AIADMK ने 134 सीटें जीतकर सरकार बनाई थी। DMK को 97 सीटें मिली थीं। 

कोरोना से महाराष्ट्र में बेकाबू हुए हाल, राज्य मंत्री ने कहा- "सिर्फ 3 दिन का वैक्सीन स्टॉक..."

कमल हासन की बेटी श्रुति हासन पर भाजपा ने लगाए गंभीर आरोप, जानिए क्या है मामला?

बंगाल चुनाव: ओवैसी ने 7 सीटों पर उतारे मुस्लिम उम्मीदवार, ममता की टेंशन बढ़ी