भारत को जल्द मिलेंगे कोरोना के दो और स्वदेशी टीके, पूरा हो चुका तीसरे फेज का ट्रायल

नई दिल्ली: आने वाले दिनों में दो और स्वदेशी कोविड -19 टीके उपलब्ध होने वाले हैं। हाल ही में इस बारे में जानकारी स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने दी है। बीते सोमवार को उन्होंने लोकसभा में इस बारे में बताया। आप सभी को बता दें कि मंडाविया ने ‘नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मास्युटिकल एजुकेशन एंड रिसर्च (संशोधन) विधेयक, 2021’ के पारित होने पर कहा, 'दोनों नए टीकों के लिए तीसरे चरण के परीक्षण (ट्रायल) के आंकड़े जमा कर दिए गए हैं।'

आगे उन्होंने कहा, ‘हमें उम्मीद है कि दोनों नए टीकों का डेटा और ट्रायल सफल होगा। ये दोनों कंपनियां भारतीय हैं, इससे जुड़ा शोध और निर्माण भी देश में ही किया गया है। सरकार की मदद से भारतीय वैज्ञानिकों ने सिर्फ 9 महीनों में कोविड -19 वैक्सीन विकसित कर लिया।’ इसी के साथ इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि, 'सरकार ने देश में 51 एपीआई (सक्रिय फार्मास्युटिकल सामग्री) के निर्माण को सुनिश्चित करने के लिए 14,000 करोड़ रुपये की उत्पादक लिंक्ड प्रोत्साहन योजना को मंजूरी दी है।' जी दरअसल, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया लोकसभा में ‘राष्ट्रीय औषधि शिक्षण और अनुसंधान संस्थान (संशोधन) विधेयक 2021’ पेश करने के बाद बोल रहे थे।

वहीं इस दौरान कई सदस्यों ने देश में औषधि अनुसंधान (फार्मास्युटिकल रिसर्च) को बढ़ावा देने और समयबद्ध तरीके से बेहतर रिसर्च सेंटर्स को स्थापित करने की मांग की। ऐसे में मंडाविया ने विधेयक को चर्चा और पारित कराने के लिए रखते हुए कहा, 'औषधि क्षेत्र के शैक्षणिक संस्थान राष्ट्रीय महत्व के संस्थान बनें, इनमें शोध हो तथा शैक्षणिक संस्थान स्थापित हो सकें… इस उद्देश्य के साथ यह विधेयक लाया गया है।'

हवा से फैल रहा ओमिक्रॉन, विशेषज्ञों ने किया दावा

जापान के प्रधानमंत्री फुमियो ने ओमीक्रॉन से निपटने के लिए नियमो को कड़ा किया

भारत में Omicron का पीक कब आएगा ? मेदांता के डॉ त्रेहन ने दिया जवाब

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -