कश्मीर में हिंसा का सिलसिला जारी है दो और मौतें

श्रीनगर : कश्मीर में गोलाबारी और हिंसा लगातार जारी है. दक्षिण कश्मीर के शोपियां में शनिवार को आतंकी समर्थक भीड़ ने सुरक्षाबलों पर पत्थरबाजी की. मारपीट व आगजनी से बेकाबू हुए हालात में सुरक्षाबलों ने गोली चला कर काबू करने की कोशिश की. इस हिंसा में दो युवकों की मौत हो गई और 20 लोग घायल हुए हैं. इन मौतों के कारण राज्य में कोहराम मचा हुआ है. बहरहाल हालात पर काबू पाने के लिए पूरे इलाके में निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है.

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के निर्देश पर प्रशासन ने मामले की न्यायिक जांच के आदेश जारी कर दिए हैं. इस बीच, हुर्रियत समेत विभिन्न अलगाववादी संगठनों के साझा मंच ज्वाइंट रजिस्टेंस लीडरशिप (जेआरएल) ने शोपियां घटना के खिलाफ रविवार को कश्मीर बंद का एलान किया है.

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया कि ''दोपहर को गनवनपोरा चौक से सेना के जवानों का एक दल अपने वाहनों में गुजर रहा था. वहां अचानक 100-150 युवकों की भीड़ ने सैन्य काफिले पर भीषण पथराव शुरू कर दिया. कुछ ही देर में हिंसक तत्वों की संख्या दोगुनी हो गई. भीड़ ने सैन्य काफिले में शामिल पीछे के चार वाहनों को चारों तरफ से घेर लिया. इस दौरान एक जेसीओ के सिर पर पत्थर लगने से वह अचेत होकर नीचे गिर पड़े. इसके अलावा छह अन्य जवान भी जख्मी हो गए. भीड़ ने सैन्य वाहनों को आग लगाने का प्रयास करते हुए अचेत पड़े जेसीओ को घसीटते हुए उसका हथियार भी छीनने की कोशिश की.''

पुलिस पदक से नवाजा जायेगा बहादुर जवान शंकर लाल जाट को

जम्मू से गिरफ्तार लड़की आतंकवादी नहीं बल्कि कट्टरपंथी

जम्मू कश्मीर :धमकियों के बाद भी मना गणतंत्र दिवस

विश्व में भारत के बढ़ते कद से परेशान चीन

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -