युवक के शरीर में घुसे 40 फीट लंबे लोहे के सर‍िये, जानिए आगे क्या हुआ?

रोहतक: ह‍र‍ियाणा में रोहतक से एक बड़ी खबर आई है. जी दरसल यहाँ के डॉक्टरों ने एक यूनिक सर्जरी कर सभी को हैरान कर दिया है. जी दरअसल यहाँ एक युवक के पेट में आरपार हुए लोहे के दो सरियों को 5 घंटे की सफल सर्जरी के बाद निकाला जा चुका है. बीते शुक्रवार रात के 9 बजे से 2 बजे तक 18 साल के करण के शरीर में आर-पार हुए लोहे के सरियों का कार्ड‍ियो सर्जरी विभाग में सफल ऑपरेशन किया गया. बताया जा रहा है लगभग 5 घंटे चले इस ऑपरेशन में कार्डियो सर्जरी और एनेस्थीसिया विभाग के डॉक्टरों ने अपने प्रयास से इस यूनिक सर्जरी को किया है.

मिली जानकारी के तहत सर्जरी के बाद युवक की जान बच गई है और अब मरीज की हालत खतरे से बाहर है जिसके बाद मरीज के पिता ने डॉक्टरों का बहुत-बहुत धन्यवाद किया है. खबरों के अनुसार शाम को करीब छह बजे युवक करण अपने घर से बाइक पर सवार होकर तेल लेने जा रहा था लेकिन रास्ते में उसके आगे चल रही सरिया से लदी रेहड़ी से उसकी टक्कर हो गई. टक्कर के बाद दो सरिये उसकी छाती के आरपार निकल गए. ऐसे में गांव वालों ने समझदारी से काम लेते हुए लंबे सरियों को कटवा द‍िया और करण को पीजीआई में भर्ती करवाया. फिलहाल ऑपरेशन हो चुका है और इसके बाद भी करण डॉक्टरों की निगरानी में कुछ दिन तक और रहने वाला है.

ऑपरेशन सफल होने के बाद डॉक्टरों ने लोगों को सलाह दी है कि अगर किसी के साथ इस प्रकार की घटना हो जाती है तो मरीज के शरीर में आर-पार हुई किसी भी लोहे के सरियों व अन्य नुकीली चीजों को बाहर ना निकाले और सीधा उसे डॉक्टर के पास ले जाएं. उन्होंने कहा ऐसा करने से मरीज की जान बचने के ज्यादा चांस हो जाते हैं. वहीं दूसरी तरफ पीजीआई में यह दूसरा मामला है. साल 2011 में भी रोहतक में काम कर रहे मजदूर के शरीर से लोहे का सरिया आरपार हो गया था.

आखिर क्यों अचानक 'क्यों रिश्तों में कट्टी-बट्टी' से अलग हो गईं थीं नेहा, खुद किया खुलासा

जानिए कौन है आर्यन को जेल से घर ले जाने वाले शाहरुख खान के बॉडीगार्ड?

ये है विश्व का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम, सरदार वल्लभभाई पटेल के नाम पर हुआ था निर्माण

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -