इंदौर पर मंडराया कोरोना का संकट, फिर हॉस्पिटल से भागे दो संदिग्ध

इंदौर: कोरोना के बढ़ते प्रकोप की वजह से हर जगह खौफ का माहौल बना हुआ है. वहीं मध्य प्रदेश में इंदौर के एमआरटीबी अस्पताल से मरीजों के भागने का सिलसिला जारी है. यहां कोरोना मरीजों व संदिग्धों को रखा जाता है. मंगलवार को भी यहां से दो मरीज फरार हो गए. इसके बाद पुलिस ने स्वास्थ्य विभाग को पत्र लिखा है. थाना प्रभारी ने पत्र में कहा है कि सुरक्षा बढ़ाने के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाएं और गार्ड तैनात किए जाएं.

इस बारें में संयोगितागंज के थाना प्रभारी नरेंद्रसिंह रघुवंशी ने बताया की मंगलवार को खजराना और देपालपुर निवासी दो मरीज फरार हो गए. हालांकि, दोनों की अभी पॉजिटिव रिपोर्ट नहीं आई थी. उन्हें संदेह के आधार पर भर्ती किया गया था. थाना प्रभारी ने यह भी कहा कि ऐसे मरीजों के हाथ व हथेली पर अमिट स्याही की सील अंकित हो. गौरतलब है कि इसी अस्पताल से पहले भी तीन मरीज भाग चुके हैं, उन्हें काफी मशक्कत के बाद पकड़ा गया था.

जानकारी के लिए बता दें की सतना शहर की फ्रेंड्स कॉलोनी स्थित भाजपा सांसद गणेश सिंह के निवास के बाहर मंगलवार को लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी. दरअसल, लोगों को जानकारी मिली थी कि सांसद निवास से जरूरतमंदों को भोजन व अनाज वितरित किया जाएगा. कुछ ही देर में वहां बड़ी संख्या में लोग जमा हो गए. वहां मौजूद कार्यकर्ताओं ने पुलिस को सूचना दी तो पुलिस ने भीड़ को खदेड़ दिया. गणेश सिंह ने बताया कि जो लोग राशन लेने के लिए पहुंचे थे वे सुरक्षित शारीरिक दूरी का पालन नहीं कर रहे थे. भीड़ को पुलिस ने तितर-बितर किया है. बल प्रयोग की बात गलत है.

naagin 4 : लाल टीकड़ी मंदिर को नष्ट कर देगी विशाखा

लॉकडाउन के कारण गई नौकरी, तो रेस्टोरेंट कर्मचारी ने कर ली ख़ुदकुशी

आंध्र तक पहुंची दिल्ली जमात की आंच, मात्र 12 घंटे में 17 कोरोना पॉजिटिव

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -