पश्चिम बंगाल: अन्धविश्वास ने ली दो मासूमों की जान, जादू-टोने के चलते दो अन्य बच्चे भी घायल

पश्चिम बंगाल: अन्धविश्वास ने ली दो मासूमों की जान, जादू-टोने के चलते दो अन्य बच्चे भी घायल

कोलकाता: पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में बच्चों पर तंत्र क्रिया किए जाने के कारण दो बच्चों की मौत हो गई है तथा दो अन्य घायल हो गए हैं. पुलिस के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया है कि यह घटना शुक्रवार की रात गजोले थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले कदमताली गांव में हुई थी. पुलिस जिला अधीक्षक आलोक रजोरिया ने कहा कि, "मृतक लड़कों की आयु पांच और सात वर्ष थी, जबकि तीन और छह वर्ष की दो बहनों को घायल अवस्था में उपचार हेतु मालदा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में भर्ती कराया गया है.'

उन्होंने कहा कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है और मौत के कारणों का पता लगाया जा रहा है." बच्चों के परिवार वालों ने बताया है कि चारों लड़कों दोनों लड़कियों पर जादू-टोना किया गया था. शुक्रवार शाम पास के जंगल से वापस लौटने के बाद सभी बच्चे बेहोश हो गए थे. उन्होंने बताया कि बच्चे वहां खेलने के लिए गए थे. एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि प्रारंभिक जांच से लगता है कि बच्चों ने जंगल से कोई जहरीला फल खा लिया था. TMC की स्थानीय MLA दीपाली बिस्वास ने शनिवार को गांव का दौरा किया और घायल बच्चों से अस्पताल में  मुलाकात की.

उन्होंने कहा कि, 'यह अंधविश्वास का मामला है. बच्चे बच गए होते, यदि परिजन तांत्रिकों की जगह उन्हें डॉक्टर के पास ले जाते. मैंने ग्रामीणों से ऐसे अंधविश्वासी बातों पर विश्वास नहीं करने की अपील की है.' स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि चिकित्सीय टीम को गांव भेज दिया गया है.

बिहार में अपराधियों के हौसले बुलंद, वकील को सरेआम गोली मारकर हुए फरार

मैदान में खड़े कर उतरवाए गए लड़कियों के पूरे कपड़े, वजह उड़ा देगी होश

'धंधा करती है' कहकर युवती को उठा ले गए दो पुलिसवाले, एक कमरे में ले जाकर...