मनी लॉन्डरिंग में घिरीं राणा अय्यूब के अकाउंट पर Twitter ने लगाई रोक, बताई ये वजह

नई दिल्ली: माइक्रोब्लॉगिंग साइट Twitter ने विवादित पत्रकार राणा अय्यूब के अकाउंट पर भारत में रोक लगा दी है। यह कार्रवाई सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम, 2000 के तहत की गई है। अय्यूब ने रविवार को अपने Twitter हैंडल पर नोटिस पोस्ट करते हुए लिखा कि, 'हैलो ट्विटर, आखिर यह है क्या?' दरअसल, राणा अय्यूब ने जो नोटिस साझा किया है, उसमें लिखा है कि 'भारत के स्थानीय कानूनों के तहत दायित्वों का पालन करते हुए हमने भारत में इस अकाउंट पर रोक लगा दी है। यह कार्रवाई देश के सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम, 2000 के तहत हुई है।'

 

Twitter के नोटिस के अनुसार, 'हमारी सेवा का उपयोग करने वाले लोगों की आवाज को बचाव करने और उनका सम्मान करने में Twitter दृढ़ता से विश्वास करता है, यदि हमें किसी अधिकृत संस्था (कानून प्रवर्तन या सरकारी एजेंसी) से कंटेंट को हटाने के लिए लीगल रिक्वेस्ट प्राप्त होती है, तो एकाउंट होल्डर्स को सूचित करना हमारी नीति है। हम यह पता करने के लिए नोटिस देते हैं कि यूजर उस देश में रहता है या नहीं, जहां से अपील की गई है।'

मनी लॉन्डरिंग में फंसी हैं राणा अय्यूब :-

बता दें कि राणा अय्यूब पर राहत कार्यों के नाम पर इकठ्ठा किए गए धन के दुरुपयोग का आरोप लगा है। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने इसी साल अय्यूब की 1.77 करोड़ रुपये जब्त कर लिए थे। अय्यूब ने मनी लाउंड्रिंग के इन आरोपों को बदनाम करने की साजिश के लिए चलाया जा रहा अभियान करार दिया था। बता दें कि गाजियाबाद के इंदिरापुरम थाने में अय्यूब के खिलाफ केस दर्ज है। उनके खिलाफ धोखाधड़ी की धाराओं में केस दर्ज किया गया है। आरोप है कि राना अय्यूब ने संस्था बनाकर चैरिटी के नाम पर ठगी की है।

कोरोना की पहली लहर में बुजुर्गों से ज्यादा युवाओं ने गंवाई जान.., स्टडी में हुआ खुलासा

वृन्दावन पहुंचे राष्ट्रपति कोविंद.., सीएम योगी और राज्यपाल ने किया स्वागत

करोड़ों से भरे 5 बोरे.., बड़ी मात्रा में सोना-चांदी, जानिए बिहार के इंस्पेक्टर के घर छापे में क्या-क्या मिला ?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -