Twitter पर लगा यूजर्स के डेटा संग छेड़छाड़ का आरोप, देना पड़ सकता है 25 करोड़ डॉलर का जुर्माना

Twitter पर लगा यूजर्स के डेटा संग छेड़छाड़ का आरोप, देना पड़ सकता है 25 करोड़ डॉलर का जुर्माना

यूजर्स को बहुत पसंद आने वाले ट्विटर ने हाल ही में एक खुलासा किया है. उनके अनुसार विज्ञापन के लाभ के लिए यूजर्स के फोन नंबर और ईमेल आईडी के अनुचित उपयोग से संबंधित एक जांच हुई है. वहीँ उस जांच में कंपनी की तरफ से यूएस फेडरल ट्रेड कमीशन एफटीसी को 25 करोड़ डॉलर तक का जुर्माना देने का निर्देश आ सकता है. जी दरअसल बीते 28 जुलाई को एफटीसी की ओर से कंपनी को शिकायत मिली थी.

उस शिकायत में एफटीसी के साथ साल 2011 में ट्विटर के सहमति आदेश के उल्लंघन करने का आरोप लगा दिया था. इसके अलावा यह भी बताया गया था कि, 'यूजर्स के निजी जानकारियों की सुरक्षा कंपनी द्वारा कैसे की जाती है, इस बारे में उन्हें गुमराह न करें.' वहीँ ट्विटर ने बीते सोमवार को अपनी दूसरी तिमाही की वित्तीय फाइलिंग के दौरान इस बारे में बात की. उन्होंने कहा कि, 'यह आरोप साल 2013 से 2019 की अवधि के बीच लक्षित विज्ञापन के लिए सुरक्षा उद्देश्यों के लिए कंपनी के फोन नंबर और/या ईमेल आईडी से संबंधित डेटा के उपयोग से था.'

इसके अलावा ट्विटर ने यह भी कहा कि, 'कंपनी का अनुमान है कि इस संदर्भ में संभावित नुकसान की सीमा 15 करोड़ डॉलर से 25 करोड़ डॉलर के बीच होगी और कंपनी को 15 करोड़ डॉलर मिले हैं. मामले को अभी तक सुलझाया नहीं जा सका है और अंतिम परिणाम कब तक प्राप्त होंगे इसे लेकर किसी निश्चित समय सीमा का आश्वासन नहीं दिया जा सकता है.'

उत्तराखंड में नहीं थम रहा कोरोना का कहर, बढ़ रहा उपचार का भार

एक्टर नकुल के घर गूंजी किलकारियां

आज बॉम्बे हाई कोर्ट में होगी सुशांत केस को सीबीआई को देने के मामले में सुनवाई