मुसलमानों को अधिक बच्चे पैदा करना चाहिए

अंकारा : किसी देश के राष्ट्रपति द्वारा दिया गया इस तरह का शायद यह पहला बयान होगा, जिसमें राष्ट्रपति अधिक या कम बच्चे पैदा करने का संदेश दें। तुर्की के राष्ट्रपति रचेप ताईप एरदोन ने मुसलमानों और परिवार नियोजन को लेकर एक ऐसा बयान दे दिया है, जिस पर विवाद पैदा हो गया है।

उन्होने कहा है कि मुस्लिम परिवारों को परिवार नियोजन में शामिल होने की जरुरत नहीं है। उन्हें ज्यादा से ज्यादा बच्चे पैदा करना चाहिए। उनके हिसाब से परिवार नियोजन इस्लाम के रिवाजों के खिलाफ है। टीवी पर लाइव प्रसारण के दौरान एरदोन ने कहा कि मैं खुलेआम ये बातें कहता हूं।

हम अपने संतानों की संख्या बढ़ाएंगे। वे परिवार नियोजन और बर्थ कंट्रोल की बात करते है। किसी भी मुस्लिम परिवार को इन चीजों में शामिल होने की जरुरत नहीं है। ईश्वर के काम में दखलअंदाजी नहीं देनी चाहिए। इसमें सबसे पहली जिम्मेदारी मां की है।

एरदोन द्वारा दिए गए इस बयान पर महिला संगठनों और विपक्षी नेताओं ने कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की है। विपक्ष का कहना है कि राष्ट्रपति इन बातों के लिए दबाव नहीं डाल सकते कि महिला कितने बच्चे पैदा करें और किसी परिवार को परिवार नियोजन प्रोग्राम में शामिल होना चाहिए या नहीं।

एरदोन इससे पहले भी बच्चे पैदा करने को लेकर विवादित बयान दे चुके है। तब उन्होने बर्थ कंट्रोल की तुलना देशद्रोह से की थी।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -