भारतीय महिलाओं की आर्थिक मजबूती के लिए काम करेगा ट्रम्प प्रशासन, बंगाल से होगी शुरुआत

Feb 09 2019 08:30 PM
भारतीय महिलाओं की आर्थिक मजबूती के लिए काम करेगा ट्रम्प प्रशासन, बंगाल से होगी शुरुआत

वाशिंगटन : ट्रंप प्रशासन की तरफ से विश्व की पांच करोड़ महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए कई योजनाएं आरम्भ की जा रही हैं. ट्रंप प्रशासन ने ऐलान किया है कि वे भारत में निजी क्षेत्र के साथ भागीदारी में दो परियोजना शुरू करेगा. ये परियोजना विश्व स्तर पर 5 करोड़ महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने की ट्रंप प्रशासन की ऐतिहासिक पहल का ही एक हिस्सा होगी.

भारत को करारा झटका दे सकता है अमेरिका, छीन सकता है 1970 से मिल रही सुविधा

इस पहल का नेतृत्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की बेटी और उनकी वरिष्ठ सलाहकार इवांका ट्रंप करेंगी. डोनाल्ड ट्रंप ने महिलाओं के वैश्विक विकास और समृद्धि (डब्ल्यू-जीडीपी) पहल शुरू करने के लिए एक मेमोरेंडम पर साइन किए हैं. इनमें से एक कार्यक्रम भारत के पश्चिम बंगाल में शुरू किया जाएगा. वाइट हाउस ने बताया है कि, पश्चिम बंगाल में पेप्सिको के साथ भागीदारी में यूनाइटेड स्टेट्स एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट (यूएसएआईडी) महिलाओं को आर्थिक मजबूती प्रदान करने के लिए कार्य करेगा.

ब्राजील : फुटबॉल क्लब में आग लगने से कई खिलाड़ियों की मौत

वाइट हाउस ने कहा है कि, 'ओपीआईसी (द ओवरसीज प्राइवेट इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन) का 10 करोड़ डॉलर का ऋण भारत में महिलाओं को देने के लिए इंडसइंड के माइक्रोफाइनेंस का विस्तार भी करेगा.' इसके साथ ही यूएसएड-यूपीएस सहमति पत्र का मकसद बाजारों में अपने सामान का निर्यात करने के लिए महिला उद्यमियों की क्षमताओं में इजाफा करना है. शुरुआत में अफ्रीका, एशिया और मध्य अमेरिका पर फोकस रखा जाएगा. 

खबरें और भी:-

कयामत की रात के ऑफ-एयर होने से दुखी हैं विवेक दहिया

सऊदी अरब के प्रिंस ने कहा था- मैं जमाल खशोगी को गोली मार दूंगा

रविवार को यूएई जाएंगे इमरान खान, ट्रम्प ने भी जताई मिलने की इच्छा