दूसरे दिन भी थमे रहे ट्रको के पहिए, महंगाई बढ़ने के आसार

रायपुर: ट्रांसपोर्टरों का प्रमुख संगठन विभिन्न मांगों को लेकर देशभर में चल रही हड़ताल दूसरे दिन भी छत्तीसगढ़ समेत कई जगहों पर जारी रही और ट्रकों के पहिए थमे रहे. ट्रांसपोर्टर मौजूदा टोल प्रणाली को खत्म करने तथा टैक्स के एकमुश्त भुगतान की सुविधा देने समेत कई मांगों को लेकर हड़ताल पर हैं. इधर माल ढुलाई ठप्प होने के कारण महंगाई बढ़ने की आशंकाए भी गई है. ऑल इंडिया मोटर कांग्रेस के आह्वान पर देशभर के तक़रीबन 80 लाख ट्रकों के मालिकों ने टोल व बैरियर मुक्त सड़क की मांग को लेकर 1 अक्टूबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं.

छत्तीसगढ़ में भी हड़ताल का असर देखने को मिला. ट्रक आपरेटरों की हड़ताल के कारण सब्जियां, बाजार व मंडी तक नहीं पहुंच पाईं. इससे सब्जियां व फलों के खराब होने तथा कीमतें बढ़ने की संभावनाए ज्यादा हो गई हैं. इसी तरह दूध व रोजमर्रा की उपयोगी वस्तुओं के अतिरिक्त कच्चा माल तथा अन्य सामग्रियों पर भी व्यापक असर पड़ेगा और महंगाई बढ़ेगी.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -