कब्ज के लिए रामबाण साबित हुआ त्रिफला

त्रिफला एक कारगर औषधि है त्रिफला को चूर्ण के रूप में उपयोग किया जाता है। ये लाभकारी औषधियों की तरह ही फायदेमंद होता है।  यह एक आयुर्वेदिक नुस्खा हैं। त्रिफला का उपयोग कब्ज दूर करने के लिये किया जाता है। त्रिफला से आंखों की रोशनी बढ़ाने मे बहुत लाभदायक होता है। त्रिफला बालों को खराब होने से बचाता है। अगर आपके बाल समय से पूर्व सफेद हो गए हो तो त्रिफला का सेवन कीजिए इससे आपको बहुत फायदा मिलेगा। आइए जानें त्रिफला कब्ज से कैसे चुकारा दिलाता है। 


कब्‍ज से छुटकारा पाएं
कब्ज की समस्या से परेशान है तो त्रिफला चूर्ण का सेवन करे इससे आपको राहत मिलेगा। इसे नियमित रूप से सेवन करना चाहिए। रात को त्रिफला चूर्ण पानी के साथ लें, इससे कब्ज दूर हो जाएगा और पेट भी साफ हो जाता है। त्रिफला चूर्ण तीन फलों के मिश्रण से बना है हरड़ त्रिफला, आंवला और बहेड़ा नामक। ये तीनों ही फल आयुर्वेदिक औषधियां बनाने में भी काम आते हैं। त्रिफला का प्रयोग शरीर में मौजूद अन्य बीमारियों को भी दूर करता है।

त्रिफला कैसे लें 
कब्ज से परेशान है तो त्रिफला चूर्ण लें, इससे आपको बहुत फायदा मिलेगा। त्रिफला चूर्ण को अलग-अलग मौसम में अलग-अलग चीजों के साथ लिया जाता है। इसे अलग-अलग मौसम में सेंधा नमक, बुरा,शहद, गुड, सौंठ, शक्कर इत्यादि के साथ मिलाकर लिया जाता है। सुबह फ्रेश होने के बाद 1-2 चम्मच त्रिफला चूर्ण लेना चाहिए। त्रिफला चूर्ण लेने के बाद एक घंटे तक चाय या दूध नहीं लेना चाहिए।

अन्य लाभ 
अगर आप आंखों की रोशनी तेज करना चाहते है तो त्रिफला चूर्ण का प्रयोग करें। बालों की जड़ों को मजबूत करने के लिए भी त्रिफला चूर्ण का प्रयोग किया जाता है। एक तांबे के लोटे में पानी भरकर उसमें दो चम्मच त्रिफला चूर्ण डाल कर रात भर के लिए रख दें। और सुबह इसके पानी को छान लें और आंखों में छीटें मारें। इससे आंखों की रोशनी बढ़ेगी। बचे हुये त्रिफला के गुद्दे को बालों में लगा लें इससे बाल अच्छे हो जाते हैं। ये याद रखना बहुत जरूरी है कि त्रिफला चूर्ण चार महीने से अधिक पुराना नहीं होना चाहिए क्योंकि इसमे गुठिलयां बनने लगती है और ये उतना फायदेमंद भी नहीं होता है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -