तिरंगे के अपमान की आशंका में विकास खन्ना से वापस लिया राष्ट्रध्वज

Sep 25 2015 01:40 PM
तिरंगे के अपमान की आशंका में विकास खन्ना से वापस लिया राष्ट्रध्वज

जोहान्सबर्ग : अमेरिका में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सम्मान में भोज की तैयारियां की गईं। इस भोज के लिए अमेरिका में भारतीय मूल के शेफ विकास खन्ना ने कई तरह के भारतीय व्यंजन परोसे। भारतीय मूल के विकास खन्ना ने विशेषतौर पर गुजराती व्यंजन मोदी के लिए तैयार किए थे लेकिन यह भोज विवादों से घिर गया । दरअसल भोज में बनाए व्यंजनों के स्वाद से खुश होकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तिरंगे पर अपने आॅटोग्राफ दिए थे और यह तिरंगा विकास खन्ना को भेंट किया था। विकास खन्ना ने एक चैनल को यह तिरंगा दिखाया जिस पर मोदी ने दस्तखत किए थे। विकास इस झंडे को अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा को देने वाले थे लेकिन यह झंडा भारतीय विदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने विकास से वापस ले लिया है।

माना जा  रहा है कि तिरंगे के अपमान की आशंका के चलते यह ध्वज विकास खन्ना से वापस लिया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि संविधान में यह स्पष्ट जताया गया है कि  राष्ट्रीय ध्वज पर किसी तरह से कुछ भी लिखा नहीं जा सकता है। उन्होंने एक ट्रे में भारत का राष्ट्रीय ध्वज रखा। जिसे लेकर तिरंग के अपमान को लेकर चर्चाऐं की जाती रहीं। ऐसे में शेफ विकास खन्ना से भारत के राष्ट्रीय ध्वज को वापस लिए जाने का निर्णय लिया गया।