सोशल मीडिया पर यह शख्स कर चुका है चीन की कार्यवाही का समर्थन, देशद्रोह का मामला दर्ज

महामारी कोरोना ने भारत के हर राज्य को अपनी चपेट में ले लिया है. जिसकों समाप्त करने के लिए हर राज्य अपनी पूरी कोशिश कर रहा है, लेकिन फिर भी दिन प्रतिदिन संक्र​मण बढ़ता जा रहा है. वही, दूसरी ओर ‘रेफरेंडम 2020’ के संस्थापक गुरुपतवंत सिंह पन्नू पर मोहाली पुलिस ने देशद्रोह और भारतीय सेना के जवानों को अपने देश के खिलाफ उकसाने के आरोप में केस दर्ज किया है. केस दर्ज करने की प्रक्रिया सदर थाना कुराली में हुई. मिली जानकारी के मुताबिक, पुलिस के हाथ एक प्री-रिकॉर्डेड मैसेज लगा है. उसमें पन्नू भारतीय सेना में काम रहे सिख सैनिकों को उकसा रहा है.

भारतीय सेना ने मार गिराया पाक का जासूसी ड्रोन, हथियार भी बरामद

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि मैसेज में उसने सिख सैनिकों को कहा कि 1947 से सिखों पर जनसंहार हो रहा है. ऐसे में इस देश के प्रति उन्हें अपनी जान नहीं देनी चाहिए. उसने उन्हें भारतीय सशस्त्र बलों को छोड़ने के लिए भी कहा. पन्नू ने सिख सैनिकों को यहां तक लालच दिया कि उन्हें जितनी सैलरी भारतीय सेना में मिल रही है, उससे पांच हजार रुपये ज्यादा दी जाएगी.

पीएम मोदी के फैसले के खिलाफ झारखंड की सोरेन सरकार, SC से लगाईं गुहार

इसके अलावा पन्नू ने सोशल मीडिया पर एक पत्र प्रसारित करके उसमें लद्दाख में स्थित अंतरराष्ट्रीय सीमा पर चीन के खिलाफ भारत की ओर से की गई कार्रवाई की निंदा की है. साथ ही सिख फॉर जस्टिस (एसएफजे) की ओर से शहीद हुए जवानों के प्रति सहानुभूति व्यक्त की है. आईजी रोपड़ रेंज अमित प्रसाद ने पन्नू के खिलाफ भारतीय सैनिकों को उकसाने के लिए देशद्रोह का केस दर्ज करने पुष्टि की है.उन्होंने कहा कि देश की जनता को पन्नू की ओर से प्रचारित किए जा रहे नकारात्मक एजेंडे के खिलाफ मुकाबला करने के लिए आगे आना चाहिए.

बिना हथियार गलवन घाटी में मौजूद थे सैनिक, इस समझौते का चीन ने उठाया फायदा

इस वजह से ट्रेन में बिना टिकट यात्रा हुई बंद, रेलवे ने ली राहत की सांस

छत्तीसगढ़ : हाथी की मौत पर सरकार का रूख सख्त, कई अफसरों पर गिरी गाज

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -