दस हजार करोड़ से बढ़ेगी ट्रेनों की रफ्तार

नई दिल्ली :  केन्द्र की मोदी सरकार कुछ ट्रेनों की रफ्तार बढ़ाने के लिये दस हजार करोड़ रूपये खर्च करेगी। सरकार ने अपनी इस योजना पर काम करना शुरू कर दिया है और इसके चलते जल्द ही ट्रेनों की रफ्तार बढ़ा दी जायेगी।

रेलवे मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि जिस तरह से गतिमान एक्सप्रेस की सफल शुरूआत हुई है उससे मंत्रालय ने दिल्ली-हावड़ा तथा दिल्ली-मुंबई जैसे रेलवे मार्गों पर ट्रेनों की रफ्तार 160 किलोमीटर प्रति घंटा करने का निर्णय लिया है लेकिन इसके लिये सरकार को दस हजार करोड़ रूपये खर्च करना होंगे।

अभी इन मार्गो पर ट्रेनों की रफ्तार कम है लेकिन यदि सरकार की योजना अमली जामा पहन लेती है तो यात्रियों के सफर का समय बहुत कम हो जायेगा। मंत्रालय सूत्रों ने बताया कि अभी इन दोनों मार्गों पर ट्रेनों की रफ्तार बढ़ाने का काम होगा लेकिन भविष्य में अन्य प्रमुख रेलवे मार्गों पर भी रेलों की रफ्तार बढ़ा दी जायेगी।

गौरतलब है कि दिल्ली और आगरा के बीच गतिमान ट्रेन का संचालन शुरू किया गया है और इसकी रफ्तार 160 किलोमीटर प्रति घंटा है।

चार विशेष ट्रेनों में जल्द नजर आएँगे विज्ञापन

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -