ट्रैफिक पुलिस का दोहरा मापदंड, क्या कर रही अपनों पर रहम और गैरो पर सितम?

Feb 14 2020 06:22 PM
ट्रैफिक पुलिस का दोहरा मापदंड, क्या कर रही अपनों पर रहम और गैरो पर सितम?

सीधी: बिना हेलमेट बाइक चलाने पर आम लोगों को नियमों व सुरक्षा का पाठ पढ़ाने वाली सीधी पुलिस इस नियम को लेकर कितनी सख्त है, यह किसी से छिपा नहीं है. लेकिन यदि आम लोग बिना हेलमेट बाइक पर निकल गए और पुलिस चेकिंग में फंस गए तो चालानी कार्रवाई होना तय है. वही जिला मुख्यालय सहित जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों में पदस्थ पुलिस इस नियम के पालन को लेकर पूरी तरह से  बेखबर नजर आ रहे है. गिने चुने पुलिसकर्मियों की बात छोड़ दें तो बाइक से चलने वाले नब्बे फीसदी से अधिक पुलिसकर्मी बाइक चलाते समय हेलमेट का उपयोग नहीं करते हैं तो जाहिर सा सवाल हैं कि क्या हेलमेट लगाने का नियम आम लोगों तक ही सीमित है. विभागीय सूत्रों की बात माने तों हर दिन जिला मुख्यालय सहित जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों मेें पुलिस द्वारा चेकिंग लगाकर बिना हेलमेट बाइक चलाने वालों के खिलाफ चालानी कार्रवाई की जा रही है. परन्तु बिना हेलमेट चलने वाले एक भी पुलिसकर्मी के खिलाफ सीधी पुलिस द्वारा चालानी कार्रवाई नहीं की जा सकी है. 


वही पुलिस की कार्रवाई अपनो पर रहम और गैरो पर सितम की तर्ज पर चल रही है. जा हां जिसमें पुलिस द्वारा शहर या ग्रामीण अंचलों में हेलमेट को लेकर चेकिंग कार्रवाई की जाती है, वहां कार्रवाई करने बाइक से पहुंचने वाले पुलिसकर्मी स्वयं बिना हेलमेट के पहुंचते हैं, परन्तु उन पर चालानी कार्रवाई नहीं की जाती, यह भी सही हैं उन पर कार्यवाही कोण करेगा. वो तो खुद ही पुलिस तबके के लोग हैं. परन्तु वही पुलिसकर्मी बिना हेलमेट लगाए बाइक लेकर वहां से निकलने वाले लोगों पर जरा भी रहम नहीं बरतती हैं. लेकिन बिना हेलमेट चलने पर चालानी कार्रवाई करने का भी अधिकार पुलिस के पास है, परन्तु पुलिस इस अधिकार का प्रयोग आम लोगों पर तो करती है, लेकिन जब कोई पुलिसकर्मी बिना हेलमेट के वहीं से गुजर हैं तो उस समय पुलिस का यह नियम को शायद भूल जाती हैं.


एक पड़ताल के बीच पता चला कि करीब 10 आम लोगों के निकले पर पुलिस ने इस पर कार्यवाही कि पचास फीसदी लोग हेलमेट लगाए हुए थे. वहीं इस बीच 10  से 13 पुलिसकर्मी बाइक से निकले जिसमें करीब २-३ पुलिसकर्मी ही हेलमेट लगाए हुए थे. इससे स्पष्ट होता है कि नियमों के पालन को लेकर पुलिस और आम लोगों में कितना फर्क है. लेकिन पुलिस खुद तो सजक नहीं हैं वही सीधी के पुलिस अधीक्षक ने कहा कि हेलमेट का प्रयोग स्वयं की सुरक्षा के लिए है. पुलिस की कार्रवाई तो मात्र जागरूकता के उद्देश्य से हाती है. हेलमेट सभी को लगाना चाहिए चाहे वह बाइक पर चलने वाला पुसिलकर्मी हो या फिर आम नागरिक. वही पुलिसकर्मियों को भी कड़ाई से हेलमेट लगाकर चलने के लिए हिदायत दी जाएगी. 

Realme की इस सेल में मिल रहा 7,550 रु तक का बेनिफिट्स

भूलकर भी न करें ये गलती, वरना भरना पड़ सकता भारी नुकसान

आज उत्तराखंड पहुचेंगी थाईलैंड की राजकुमारी, देखेंगी देवस्थल से अंतरिक्ष के नजारे