पर्यटन विकास निगम के होटल्स की लीज का रास्ता साफ

प्रदेश में बड़ी संख्या में घाटे में चल रहे पर्यटन विकास निगम के होटल्स को अब लीज पर दे दिया जाएगा. अब पर्यटन विकास निगम के इन होटल्स को निजी हाथों में सौपने की तैयारी हो रही है. गौरतलब है की  निगम के ये सभी होटल काफी समय से घाटे में चल रहे हैं. होटल्स को लीज पर दने के लिए  टेंडर खोल दिए गए हैं. टेंडर को एमडी के ट्रांसफर के लगभग तीन माह से अटके टेंडर को खोला गया है.


पर्यटन विकास निगम के इन होटल्स के लिए सबसे महंगी लीज उज्जैन की अवंतिका होटल की होगी. होटल की लीज के लिए 8 करोड़ 45 लाख रुपए देने होंगे जबकि राज्य के बाकी छह होटल्स के लिए करीब 21 करोड़ रुपए देने होंगे. इन होटल्स को तीस वर्ष के लिए लीज पर दिया जाएगा. अभी मंडला के टूरिस्ट होटल के लिए टेंडर का निर्णय नहीं हो पाया है.  होटल्स को लीज पर जो भी निजी समूह लेगा उसके पास होटल के रख-रखाव का जिम्मा रहेगा.   

पर्यटन विकास निगम के होटल्स की लीज के लिए उप महाप्रबंधक का कहना है कि फाइनेंशियल बिड में जो समूह योग्य पाए गए हैं उन्हें जल्द ही होटल का संचालन सौंपने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी.

इन 5 राज्यों में निवास करती हैं भारत की 48 फीसदी आबादी

भोपाल समेत पुरे प्रदेश के तापमान में वृद्धि

सरकारी स्कूलों में एनसीईआरटी पाठ्यक्रम को शामिल किया जायेगा

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -