तमिलनाडु में नक्सली नेता और उसकी पत्नी गिरफ्तार

May 06 2015 07:08 AM
तमिलनाडु में नक्सली नेता और उसकी पत्नी गिरफ्तार

तमिलनाडु / तिरुवनंतपुरम : केरल के नक्सली नेता रूपेश को उसकी पत्नी और चार अन्य लोगों के साथ तमिलनाडु में गिरफ्तार किया गया है। यह जानकारी केरल के गृह मंत्री रमेश चेन्निथला ने मंगलवार को दी। तिरुवनंतपुरम में उन्होंने कहा, "राज्य में नक्सली गतिविधियों पर लगाम लगाने के लिए रूपेश की गिरफ्तारी एक बड़ी उपलब्धि है।" चेन्निथला ने बताया कि दक्षिण भारत के राज्यों की पुलिस ने संयुक्त अभियान में रूपेश को कोयंबटूर जिले से गिरफ्तार किया। उन्होंने बताया कि केरल पुलिस रूपेश और गिरफ्तार लोगों से पूछताछ करेगी।

गिरफ्तार किए गए सभी लोग इस समय तमिलनाडु पुलिस की हिरासत में हैं। रूपेश और उसके साथी दक्षिण भारत में दर्जन भर से भी ज्यादा मामलों में आरोपी हैं और प्रतिबंधित भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (माओवाद) के सदस्य हैं। रूपेश की सास ने मीडिया को बताया कि उनकी बेटी और दामाद 2008 के बाद से उनसे एक बार भी मिलने नहीं आए हैं। उन्होंने कहा, "वे दोनों फोन भी नहीं करते, क्योंकि उन्हें पता है कि पुलिस हमारे घर का टेलीफोन टेप कर रही है।" इलाके के एक चाय विक्रेता ने बताया कि जब दोनों नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया तो वे दुकान में चाय पी रहे थे। रूपेश और उनकी पत्नी को पुलिस ने सोमवार को इसी चाय की दुकान के पास से गिरफ्तार किया था।

चाय बेचने वाले ने बताया, "गिरफ्तारी के समय रूपेश नारे लगा रहा था और उन सब ने पुलिस के सामने किसी तरह का विरोध नहीं किया।" तमिलनाडु पुलिस ने हालांकि कहा कि नक्सली नेताओं को सोमवार रात गिरफ्तार किया गया। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि रूपेश, उसकी पत्नी शायना और तीन अन्य लोगों को चेन्नई से 500 किलोमीटर दूर स्थित कोयंबटूर में उनके ठिकाने से गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार किए गए अन्य व्यक्तियों में दो तमिलनाडु के हैं और एक व्यक्ति का ताल्लुक केरल से है। गिरफ्तार किए गए लोगों से विभिन्न पहलुओं पर पूछताछ की जा रही है। उनसे कोयंबटूर में उनके स्थानीय सहयोगियों के बारे में पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने गिरफ्तार नक्सलियों के पास से मोबाइल फोन और अन्य सामान जब्त किए हैं।