सब्जियों की कीमतों में फिर लगी आग, आम जनता की थाली से गायब हुआ स्वाद

सब्जियों की कीमतों में फिर लगी आग, आम जनता की थाली से गायब हुआ स्वाद

नई दिल्ली: सब्जियों के दाम इस वक्त आसमान पर पहुंचे हुए हैं. लोगों की थाली से आलू-टमाटर और प्याज समेत अन्य हरी सब्जियां गायब होती जा रही हैं. टमाटर की कीमत देश में 80 से 100 रुपये प्रति किलो के मध्य है. वहीं आलू-प्याज भी 40 से 50 रुपये प्रति किलो की दर से बिक रहा है. बारिश के चलते मंडियों में सब्जियों की आवक में गिरावट आई है, जिसके चलते मांग और आपूर्ति में बहुत अंतर हो गया है.

वहीं, कोलकाता के फुटकर बाजार में टमाटर 100 रुपये प्रति किलो के हिसाब से बिक रहा है. देश में अन्य जगह टमाटर की कीमत 60 से 80 रुपये प्रति किलो के बीच है. ये ही हाल इस समय आलू और प्याज का है. आलू की कीमत 50 रुपये प्रति किलो और प्याज भी इसी दाम में बिक रहा है. दिल्ली में निरंतर सब्जियों की कीमतों में वृद्धि हो रही है. गाजीपुर सब्जी मंडी में एक सब्जी विक्रेता ने बताया है कि, "बारिश में सब्जियां खराब हो गई है, इसलिए सब्जियों के दाम बढ़ रहे हैं. इस वक़्त टमाटर 60 रुपये किलो बिक रहा है और इसका कैरेट 1300-1400 रुपयेकि दर से मिल रहा है.

एशिया की सबसे बड़ी थोक फल और सब्जी मंडी आजादपुर (Azadpur-APMC) में टमाटर की कीमत 40 से 60 रुपये किलो के बीच है. आजादपुर मंडी के PPA टोमैटो एसोसिशन के अशोक कौशिक ने कहा कि कम आपूर्ति की खबरों से टमाटर के भाव बढ़ रहे हैं. कौशिक ने बताया कि बारिश के कारण फसल को हुए नुकसान की वजह से नई फसल की आवक पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है.

9 फीसद गिर सकती है देश की जीडीपी, एशियाई विकास बैंक ने जारी किया पूर्वानुमान

इंडियन रेलवे ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, कोरोना काल में बना डाले 150 रेल इंजन

बंटवारे के दौरान पाकिस्तान गए लोगों की संपत्ति बेचेगी मोदी सरकार ? 1 लाख करोड़ है कीमत