टोल टैक्स कम या ज्यादा हो सकता है, खत्म नहीं हो सकता : गडकरी

नई दिल्ली : भारत के केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी नई दिल्ली में आयोजित किए जा रहे शिखर समागम में शामिल हुए। राष्ट्रीय हिंदी समाचारपत्र हिंदुस्तान और राष्ट्रीय हिंदी समाचार चैनल एबीपी न्यूज़ समेत अन्य संस्थाओं द्वारा आयोजित व प्रायोजित इस कार्यक्रम में केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने परिवहन को लेकर कई बाते की. इस दौरान गडकरी ने टोल टैक्स को लेकर कहा कि टोल टैक्स कभी खत्म नहीं किया जा सकता. गडकरी के अनुसार टोल को कम या ज्यादा किया जा सकता है लेकिन उसे खत्म नहीं किया जा सकता. गडकरी के अनुसार सड़क बनाने के लिए सरकार के पास पैसे नहीं है, ऐसे में बेहतर रोड का इस्तेमाल करना है तो टैक्स देना होगा. रोड बनाने के लिए अगर सरकार विदेश से कर्ज लेगी तो ब्याज लगेगा.

इसके अलावा नितिन गडकरी ने कई मुद्दो पर बात की. उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा बनाया जा रहा एक्सप्रेस हाईवे देश का पहला एक्सप्रेस हाईवे होगा। पर्यावरण के उपयोग के लिए पाॅल्युशन फ्री बैटरी से चलने वाले वाहन सड़कों पर दौड़ेंगे। यही नहीं देश को शिपिंग में लाभ हुआ है। उन्होंने रामेश्वर में एक नई तकनीक से काम करने की बात कही। एनएच 24 को 16 लेन बनाने की बात भी उन्होंने की। उन्होंने कहा कि पर्यावरण को लेकर सरकार गंभीर है। करीब 5000 करोड़ रूपए उन्होंने रिजर्व रखे हुए हैं।

उन्होंने बड़ौदा - मुंबई एक्सप्रेस हाईवे बनाने की बात भी कही। उनका कहना था कि देश में टीमवर्क, विकासीय अवधारणा और त्वरित अमल में लाने वाला और पारदर्शी कार्य करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि सरकार कार्य करेगी और स्थिति सुधरेगी। बिहार चुनाव को लेकर उन्होंने सड़क निर्माण के क्षेत्र में कहा कि नीतिश कुमार ने जो आरोप लगाए हैं वह निराधार हैं। वे जातिवाद और सांप्रदायिकता की राजनीति करने में विचार करते हैं लेकिन देश को अच्छा विकास और अच्छी आर्थव्यवस्था दें तो यह युवाओं के लिए बेहतर होगा।

उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति जाॅन एफ कैनेडिका उल्लेख करते हुए कहा कि सड़क से समृद्धि आती है सरकार आने वाले दिनों में प्रतिदिन 25 से 30 किलोमीटर सड़क का निर्माण करेगी। जनता के सवालों के जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि लखनऊ-वाराणसी सड़क निर्माण के प्रोजेक्ट को लेकर उन्होंने कहा कि यह जल्द ही शुरू होगा। उन्होंने कहा कि सरकार टोल नाकों की दिशा में भी नया प्रयास कर रही है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

मुख्य समाचार

- Sponsored Advert -