Tokyo Paralympics: भारत को दो और पदक.. भालाफेंक में देवेंद्र को सिल्वर तो सुन्दर को ब्रोंज मेडल

नई दिल्ली: Tokyo Paralympics में देवेंद्र झाझरिया और सुंदर सिंह गर्जुर ने भला फेंक (F46 वर्ग) में शानदार प्रदर्शन करते हुए भारत के खाते में दो और पदक डाल दिए हैं. देवेंद्र झाझरिया ने सिल्वर तो सुंदर सिंह ने ब्रोंज मेडल जीता है. इसी के साथ भारत ने टोक्यो पैरालंपिक में कुल 7 पदक जीत लिए हैं. श्रीलंका के Mudiyanselage Herath ने गोल्ड मेडल जीता है. उन्होंने 67.79 मीटर का थ्रो किया. 

वहीं, देवेंद्र ने 64.35 मीटर और सुंदर सिंह ने 64.01 मीटर का थ्रो किया. राजस्थान के चुरु जिले के देवेंद्र झाझरिया ने इससे पहले रियो पैरालंपिक- 2016 में स्वर्ण पदक जीता था. उनके नाम भारत की तरफ से पैरालंपिक में दो बार स्वर्ण पदक जीतने का रिकॉर्ड दर्ज है.  टोक्यो पैरालंपिक में भारत के लिए सोमवार का दिन बेहतरीन रहा है. इससे पहले अवनि लखेरा ने शूटिंग में स्वर्ण पदक जीता. 19 वर्षीय इस शूटर ने महिलाओं के 10 मीटर एयर राइफल के क्लास SH1 में पहला स्थान हासिल किया. उन्होंने 249.6 का स्कोर बनाया. बता दें कि पैरालंपिक्स के इतिहास में भारत का शूटिंग में यह पहला गोल्ड मेडल है.

इससे पहले योगेश कथुनिया ने भारत को डिस्कस थ्रो में रजत पदक दिलाया. रविवार को महिला टेबल टेनिस खिलाड़ी भाविनाबेन पटेल और ऊंची कूद के एथलीट निषाद कुमार ने सिल्वर मेडल जीते, किन्तु विनोद कुमार का चक्का फेंक की एफ52 स्पर्धा में ब्रोंज मेडल उनके क्लासिफिकेशन को लेकर विरोध दर्ज होने के चलते रोक दिया गया.   

खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने किया फिट इंडिया मोबाइल ऐप को लॉन्च

राष्ट्रीय खेल दिवस के उपलक्ष में याद किए गए मेजर ध्यानचंद

टोक्यो पैरालिंपिक्स: भाविना पटेल की जीत पर गदगद हुए राष्ट्रपति और PM मोदी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -