बुंदेलखंड की बेटी को न्याय दिलाने सड़क पर कैंडल लेकर उतरे युवक

टीकमगढ़। जिले के नगर परिषद लिधौरा में बुधवार रात कुशवाह समाज के युवाओं ने बुंदेलखंड की बेटी राधिका को न्याय दिलाने के लिए कैंडल मार्च निकाला। उन्होंने राधिका को न्याय दिलाने की मांग की। युवाओं के हाथों में मोमबत्तिया  थी । युवाओं ने हाथों में मोमबत्तियां पकड़कर पूरे नगर में रैली निकाली और जस्टिस फॉर राधिका का नारा लगाया। नगर भ्रमण के बाद अंबेडकर चौराहे पर पहुंचकर राधिका को श्रद्धांजलि अर्पित  करी। 

बुंदेलखंड के सागर जिले के बीना तहसील के गांव की रहने वाली राधिका कुशवाह अपने परिजनों के साथ उड़ीसा में जगन्नाथ पुरी के दर्शन के लिए गई थी। 23 नवंबर को जगन्नाथपुरी में राधिका का अपरहण हो गया था जिसके बाद पुलिस को उसका शव समुद्र के किनारे मिला। इस घटना का विरोध करते हुए बुधवार रात कुशवाह समाज के युवाओं और कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने नगर में कैंडल मार्च निकालकर और राधिका को न्याय दिलाने की मांग की। मोर्चा के दौरान कांग्रेस के जिला सचिव जयदीप चढ़ार ने बताया कि समय रहते अगर उड़ीसा पुलिस ने राधिका के परिजनों की शिकायत पर कार्रवाई की होती तो उसकी जान बचाई जा सकती थी। 

कैंडल मार्च में शामिल युवाओं ने आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस की लापरवाही की वजह से बुंदेलखंड की बेटी की जान चली गई। प्रदर्शन के दौरान हरिओम कुशवाह का कहना है कि इस मामले में लापरवाही करने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। राधिका की  हत्या करने वाले आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए। कैंडल मार्च के दौरान युवाओं ने राधिका को न्याय दो और हत्यारे को फांसी दो के नारे लगाए।

भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुई स्वरा भास्कर, गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कही बड़ी बात

16 वर्षीय नाबालिग़ छात्रा से प्राचार्य ने की छेड़खानी का मामला हुआ दर्ज

बिना इनविटेशन के खाना खा लेने पर मिली ऐसी सजा

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -