तमिलनाडु सरकार ने भारतियर यूनिवर्सिटी के लिए किया पांच सदस्यों को नामित

स्व-वित्तपोषित कॉलेजों के पांच सचिवों को तमिलनाडु सरकार द्वारा भारतियर यूनिवर्सिटी, कोयंबटूर के सदस्यों के रूप में नामित किया गया है।

उच्च शिक्षा विभाग द्वारा 31 मई को जारी सरकारी आदेश के अनुसार, एजेके कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड साइंस के डॉ अजीत कुमार लाल मोहन, पीएसजीआर कृष्णम्मल कॉलेज फॉर वीमेन की डॉ एन येसोधा देवी, नीलगिरी कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड साइंस के राशिद गजाली के, कामाधनु आर्ट्स एंड साइंस कॉलेज के पी, अरुंथथी और डॉ एसएनएस राजलक्ष्मी कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड साइंस के डॉ नलिन विमल कुमार एस को सिंडिकेट के लिए नामित किया गया था।

पांच सदस्य आदेश जारी होने की तारीख से 3 साल तक सेवा करेंगे। एसोसिएशन ऑफ सेल्फ-फाइनेंसिंग आर्ट्स, साइंस एंड मैनेजमेंट कॉलेजऑफ तमिलनाडु (ASFASMTN) ने कॉलेजों के लंबे समय से लंबित प्रस्ताव पर विचार करने के लिए राज्य सरकार का आभार व्यक्त किया।

2019 में ASFASMTN द्वारा दायर एक रिट याचिका में मद्रास उच्च न्यायालय के हस्तक्षेप के बाद, राज्य विधानसभा ने एक विधेयक पारित किया, जिसमें स्व-वित्तपोषित कॉलेजों को भारतियर यूनिवर्सिटी सिंडिकेट के सचिवों को नामित करने की अनुमति दी गई थी।

FAO किसकी एजेंसी है?

Buxwaha forest भारत में कहाँ स्थित है?

IMF की स्थापना किस वर्ष हुई थी?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -