विपक्षी दलों की बैठक में शामिल नहीं होगी TMC

विपक्षी एकता की अगुवाई करने की कांग्रेस की मुहिम को ममता बनर्जी ने बड़ा झटका दे डाला है। जी दरअसल TMC ने संसद के शीतकालीन सत्र से पहले कृषि कानून समेत महंगाई अन्य मुद्दों पर कांग्रेस की ओर से बुलाई गई बैठक में शामिल होने से इंकार कर दिया है। आप सभी जानते ही होंगे कि नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने सोमवार को सभी विपक्षी दलों की बैठक बुलाई थी। हालाँकि ममता बनर्जी ने बैठक से दूरी बना ली है।

कहा जा रहा है इसकी एक वजह गोवा में आसन्न विधानसभा चुनाव भी हैं, जहां टीएमसी बीजेपी कांग्रेस के खिलाफ ताल ठोंकने का इरादा जता चुकी है। आप सभी को बता दें कि टीएमसी से जुड़े सूत्रों का कहना है कि पार्टी की गोवा यूनिट चाहती है कि टीएमसी कांग्रेस नीत विपक्षी बैठक से दूरी बनाए रखे क्योंकि गोवा में टीएमसी बीजेपी कांग्रेस के खिलाफ चुनावी मैदान में है। वहीं दूसरी तरफ संसद में विपक्षी दलों की एकता बरकरार रहने वाली है। वहीं यह भी कहा जा रहा है कि सुबह होने वाली विपक्षी दलों की बैठक में टीएमसी शामिल नहीं होगी।

आप सभी जानते ही होंगे कि कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने सोमवार सुबह अपने चैंबर में विपक्षी दलों की बैठक आहूत की है। वहीं इस बैठक का मकसद संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान विभिन्न मुद्दों पर सरकार को घेरने की रणनीति पर सहमति बनाना है। वहीं इन सभी के बीच कांग्रेस के एक दिग्गज नेता ने यह आरोप लगा दिया है कि टीएमसी, बीजेपी की मदद कर रही है। अब कांग्रेस की ओर से आहूत विपक्षी दलों की बैठक से टीएमसी का ना जाना विपक्षी एकता को नुकसान पहुंचा सकता है। आपको बता दें कि टीएमसी का यह कदम समाजवादी पार्टी आम आदमी पार्टी को भी बैठक में नहीं जाने के लिए प्रेरित कर सकता है, जो कि यूपीए का हिस्सा नहीं है!

त्रिपुरा के लोगों को भाजपा पर भरोसा है: दिलीप घोष

ममता ने कांग्रेस को दिया एक और झटका

'मोदी सरकार नाकाम रही': सुब्रमण्यम स्वामी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -