ममता बनर्जी सरकार में मुसलमानों को उचित हिस्सा नहीं मिला है: दिलीप घोष

By iti mishra
Jan 13 2021 01:28 PM
ममता बनर्जी सरकार में मुसलमानों को उचित हिस्सा नहीं मिला है: दिलीप घोष

कोलकाता: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष का कहना है, 'ममता बनर्जी सरकार में मुसलमानों को उचित हिस्सा नहीं मिला है और अब अल्पसंख्यक समुदायों को अपने अधिकारों को हासिल करने का समय है।' उन्होंने यह बात हावड़ा में एक सार्वजनिक बैठक में कही। उन्होंने इस दौरान यह भी कहा कि, 'सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस 'तुष्टीकरण की राजनीति' पर चल रही थी, लेकिन पार्टी ने मुसलमानों की वित्तीय स्थिति को बढ़ाने के लिए कुछ नहीं किया।'

इस बैठक में उन्होंने बहुत सी बातें की। इस दौरान वह बोले, "अगर तृणमूल कांग्रेस मुसलमानों से बहुत प्यार करती है, तो वे इतने गरीब क्यों हैं? सच्चर समिति ने कहा था कि बंगाल के मुसलमान बहुत गरीब हैं। कोविड-19 महामारी के दौरान सभी को भोजन देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सद्भावना, सभी को लाभान्वित करना था, भले ही उनका धर्म कोई भी हो।" इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा- 'पश्चिम बंगाल में मुसलमानों को पशु तस्करी जैसे विभिन्न अपराधों के लिए पुलिस के मामलों से भरा गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र द्वारा पश्चिम बंगाल में भेजे गए अनाज को बांग्लादेश भेजा गया था।'

इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि, "आज बंगाल के मुसलमानों को (तृणमूल की मंशा) का एहसास हो गया है और वे अपने अधिकारों को हासिल करने के लिए तैयार हैं। अगर हैदराबाद की AIMIM यहां विधानसभा चुनाव लड़ना चाहती है, तो दीदी (ममता बनर्जी) क्यों चिंतित हैं? IMIM यहां अपनी उपस्थिति स्थापित करना चाहता है, भाजपा तुष्टीकरण की राह पर कभी नहीं चलेगी।''

सलमान खान के शो को लेकर खेसारी लाल यादव ने दिया बड़ा बयान, बोले- बिगबॉस में मैं गया जरूर था लेकिन...

Amul ने विरूष्का की बेटी के स्वागत के लिए किया ये खास काम

राजस्थान के हॉस्पिटल में डॉक्टर पर लगा इलाज़ के बदले पैसे मांगने का आरोप