बारिश के मोसम में ना करें इन चीज़ों का सेवन, हो सकते हैं बीमार

बारिश के मोसम में ना करें इन चीज़ों का सेवन, हो सकते हैं बीमार

बारिश के साथ ही बारिश में होने वाली बीमारियों की दस्तक भी महसूस होने लगी है. ये मौसम में आपको बिमार जल्दी करता है. लेकिन इस मौसम का लुत्फ़ उठाना भी सभी को अच्छा लगता है. लेकिन इसी के साथ आपको अपना ख्याल रखने की भी जरूरत होती है. अगर आप मॉनसून की बीमारियों से बचना चाहते हैं तो जरूरी है कि खानपान में थोड़ा सा परहेज रखें. जानिए किन चीज़ों को खाने से आपको बचना चाहिए. 

गरिष्ठा भोजन - मॉनसून की पेट संबंधी बीमारियों से बचने के लिए आप किसी भी तरह का गरिष्ठ भोजन इस मौसम में न लें. गरिष्ठद अर्थात तला, डीप फ्राई और मसालेदार हैवी खाना. हालांकि बारिश होते ही लोगों को पकौड़ों की याद आने लगती है पर इस मौसम में पाचन तंत्र कमजोर हो जाता है.  

कटे हुए फल - समय की कमी के चलते कुछ लोग सड़क किनारे खड़े ठेले वालों से कटे हुए फल खरीद कर खा लेते हैं. कई बार लोग घर से फल काटकर टिफिन में पैक कर लेते हैं. यह दोनों ही तरीके बैक्टीरिया को निमंत्रण देते हैं. जिससे कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं. फल हमेशा साबुत ही अपने पास रखें और जब खाना हो तभी काटें.

पत्तेदार सब्जियां, गोभी की किस्में - कीड़ों-मकौड़ों के लिए यह प्रजनन का समय होता है. ये ज्यादातर हरी पत्तेददारी सब्जियों और गोभी, पत्ता गोभी और ब्रोकोली आदि में अपना ठिकाना बनाते हैं. इसलिए बारिश के मौसम में इन सब्जियों का सेवन नहीं करना चाहिए. बहुत जरूरी हो तो पकाने से पहले इन्हें गुनगुने पानी में अच्छी तरह धोएं.

स्ट्रीट फूड से बचें - बारिश के मौसम में स्ट्रीट फूड टेस्टी तो बहुत लगता है पर इस मौसम में  बैक्टीरिया के पनपने  की संभावना सबसे ज्यादा होती है. गंदे पानी, गंदे हाथ या गंदे बर्तन किसी भी वजह से फूड पॉइजनिंग हो सकती है. इसलिए मॉनसून की बीमारियों से बचना है तो बारिश के मौसम में स्ट्रीट फूड खाने से भी परहेज करना चाहिए.

नाख़ून चबाने की आदत आपको दे सकती है कैंसर

बुढ़ापे से बचने के लिए आप भी कर सकते हैं 'जापानी योग'

Recipe : सावन में खाएं केले की चिप्स और रहें हेल्दी, जानें रेसिपी