कैसे अपने फोन को करें वायरस प्रोटेक्टेड...

कैसे अपने फोन को करें वायरस प्रोटेक्टेड...

यदि आप अपने फोन में इंटरनेट इस्तेमाल करते हैं, ब्लूटूथ से डेटा ट्रांसफर करते हैं, मेल चलाते हैं, मेमोरी कार्ड का आदान प्रदान करते हैं... तो सतर्क हो जाइए, आपका फोन वायरस का शिकार हो सकता है और कोई भी बड़ी ही आसानी से आपकी पर्सनल जानकारी में सेंध लगा सकता है।

आज कंप्यूटर, लैपटॉप के बाद मोबाइल पर हैकर की ज़्यादा निगाहें रहती है। क्यूंकी यह आपके ज़िंदगी का एक अहम हिस्सा बन चुका है, आपकी ज़िंदगी से जुड़ी बारीक से बारीक जानकारी इसमें रखी होती है। और जब से मोबाइल इंटरनेट का प्रचलन बढ़ा है खतरे भी दुगने हो गए हैं। आइये आपको बताते हैं, आप अपने फोन को भविष्य में होने वाले वायरस हमले से कैसे बचा सकते हैं-

ब्लूटूथ को रखें बंद- ध्यान रहे ब्लूटूथ किसी भी प्रकार के डाटा को ट्रांसफर करने का सबसे आसान और सीधा सरल तरीका है। इसलिए ज़रूरत ना होने पर फोन में ब्लूटूथ को ज़रूर बंद रखें। आपको बता दें की थोड़ी सी मशक्कत के बाद एक हैकर आसानी से आपके फोन का सारा डाटा ब्लूटूथ से बिना आपकी इजाज़त के चुरा सकता है।

ब्लूटूथ लोडिंग को कहें ना- यदि आप अपने फोन में ब्लूटूथ के जरिये एप्लिकेशन या डाटा का लेन देन करते हैं तो, यह आपके फोन के लिए हानिकारक हो सकता है।

डाटा के लिए ट्रस्टेड सोर्स का करें इस्तेमाल- बात चाहे एप्लिकेशन की हो या गानों की या फोटोस या वीडियोज़ की, कोशिश करें की किसी भी तरह के डाटा डाउनलोडिंग के लिए ट्रस्टेड सोर्स का ही इस्तेमाल करें।

स्पैम या अनजाने मेल को करें डायरेक्ट डिलीट- चाहे कितने भी लुभावने ऑफर हों या कोई हॉट सी तस्वीर क्यूँ ना हो, ध्यान रहे ये सभी वायरस हमले के बहुत अच्छे जरिये हैं। यदि आपने ऐसे मेल को ओपें किया तो संभवतः आपकी आईडी हैक भी हो सकती है।

फोन को रखें पासवर्ड प्रोटेक्टेड- कई मर्तबा आपके फोन का एक पासवर्ड मात्र आपके फोन में रखी ज़रूरी जांकारियों को किसी और के हाथों में जाने से बचा लेता है। फिर चाहे वो कोई आपका अपना हो या कोई हैकर। कोशिश करें कि आपका पासवर्ड थोड़ा जटिल हो जिसे आसानी से गैस ना किया जा सके और सबसे ज़रूरी बात, अपने पासवर्ड को समय समय पर ज़रूर बदलते रहें।

मेमोरी कार्ड एक्स्चेंज से बचें- कभी कभी ऐसी सिचुएशन आती है जब आपको मेमोरी कार्ड्स एक्स्चेंज करने पड़ते है, उदाहरण के तौर पर जल्दी डाटा कॉपी करना, या बैकअप बनाना या कुछ और... यकीन बानिए ये सभी आपके फोन को बड़े ही जबर्दस्त तरीके से इनफेक्ट कर सकते हैं।

लीगल एंटी वायरस का प्रयोग करें- ख्याल रहे बाज़ार में मुफ्त में लाखों एंटी वायरस मिल जाएंगे और ये आपके फोन को सुरक्षित करने की बजाए उल्टा उसे और संक्रमित कर सकते हैं और हो सकता है की आपके फोन में मौजूद डाटा का हेर फेर भी कर दें। इसलिए ओरिजिनल ओर लीगल एंटी वायरस का ही प्रयोग करें। ये आपके फोन को निरंतर रूप से स्कैन करते रहते हैं और किसी भी प्रकार के वायरस हमले होने पर आपको तुरंत एक्शन लेने की सुविधा देते हैं।

उम्मीद करते हैं, हमारा यह पोस्ट आपके फोन को सुरक्षित रखने में ज़रूर सफल होगा। जुड़े रहिएगा, हम आपके लिए लेकर आते रहेंगे ऐसे ही ज़रूरी अपडेट्स...