चेस्ट पैन होने पर ना करें इग्नोर, तुरंत अपनाएं ये टिप्स

दिल के मरीजों की संख्या बढती जा रही हैं, जिसके पीछे कई कारण हो सकते हैं. इसका कारण टेंशन और अधिक भार हो सकता है. दिल की बीमारी व्यक्ति को हार्ट अटैक का कारण बनती हैं, जिसकी वजह से मौत भी हो सकती हैं. कई बार  लोगों को चेस्ट पैन की समयस्या भी होने लगती है. ऐसे में जब भी चेस्ट पेन जैसी समस्या दिखाई दे संभल जाना चाहिए और सावधानी बरतनी चाहिए, ताकि यह चेस्ट पेन आपके हार्ट अटैक का कारण ना बन सकें. आज हम आपको कुछ ऐसे ही टिप्स देने जा रहे हैं जिससे आप अपनी सेहत का ख्याल रख सकते हैं. इससे आप हार्ट अटैक से भी बच सकते हैं.  

* जोर-जोर से खांसना
अगर कभी किसी के अचानक चेस्ट या हार्ट पेन और चक्कर आने लगे तो उसे जोर-जोर से खांसना शुरू करना चाहिए. ऐसे तब ही करना है जब बेहोश होने जैसा फील हो रहा हो. इससे धमनियां रिलेक्स फील करती है.

* कार्डियक मसाज
हार्ट में प्रॉब्लम होने पर दोनों हाथों से हार्ट की पपिंग करें लेकिन इसे ट्रेंड प्रशिक्षक से ही करवाना चाहिए. फर्स्ट एड के दौरान आप इंटरनेट पर वीडियो देखकर भी इसे कर सकते हैं. इससे रोगी को काफी हद तक राहत मिलेगी.

* डिस्प्रिन टेबलेट लें
जिनको अचानक पहली बार हार्ट अटैक आए वे डिस्प्रीन की टेबलेट जीभ के नीचे रख लें. लेकिन यह केवल डॉक्टर के पास जाने तक का टेम्प्रेरी ईलाज है.

* चेस्ट पेन को इग्नोर न करें
अगर कभी भी चेस्ट पेन हो तो उसी समय सभी काम छोड़ कर डॉक्टर के पास जाएं. इसके अलावा किसी भी दोस्त या रिश्तेदार की मदद लें.

गुणों का भंडार है कुल्हड़, सेहत को होते हैं कई लाभ

इन कारणों से होता है आपको हाई ब्लड प्रेशर, ये हैं लक्षण

आप नहीं जानते होंगे दलिया खाने के ये फायदे

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -