यदि पथरी हो गई हैं तो इन सुझावों को पढ़े

यदि पथरी हो गई हैं तो इन सुझावों को पढ़े

कहते हैं पथरी में होने वाला दर्द गर्भ के बाद प्रसव में होने वाले दर्द से भी ज्यादा दर्दनाक होता है. जिस किसी ने इस दर्द को महसूस किया हैं वही इसकी असली पीड़ा को समझ सकता हैं. यदि दुर्भाग्यवश आप भी इस पथरी नामक बिमारी के शिकार हो गए हैं तो हम आपको कुछ सुझाव देंगे. यह सुझाव पथरी की बिमारी के दौरान आपकी मदद करेंगे. 

1. जर्दा, तम्बाखू, चूने, सुपारी आदि का सेवन कभी नहीं करें.

2. एक गमले में पत्थरच ट्टा का पौधा लगा लें. इस की डाली या पत्ता ही लग जाता है और कुछ ही दिनों में पौधा बन जाता है. 

3.  प्रति सप्ताह काम से कम एक पत्ते का सेवन करते रहें या सब्जी में एक दो पत्ते डालें सारा परिवार सुरक्षित रहेगा. इसके उपयोग से अनेकों की पथरी गल कर निकल चुकी है. 

4. जिनको बार-बार पथरी होती रहती है, वे हर दूसरे दिन पत्थर चट्टा का आधा पत्ता सेवन करें, लाभ मिलेगा. 

5. वर्जित अस्वास्थ्यकर व्यसनों के साथ ही टमाटर के बीजों का सेवन भी नहीं करें.

यदि आप इन सुझावों को अपनाएंगे तो आप की पथरी वाली बिमारी का समय अच्छा व्यतीत होगा.